केंद्र के फरमान का हरियाणा में दिखने लगा असर, CM व विधायकों ने वाहनों से उतारी लालबत्ती

Friday, April 21, 2017 8:54 AM
केंद्र के फरमान का हरियाणा में दिखने लगा असर, CM व विधायकों ने वाहनों से उतारी लालबत्ती

चंडीगढ़ (अविनाश पांडेय):केंद्र सरकार के लालबत्ती कल्चर खत्म करने के फरमान का असर अब हरियाणा में भी दिखना शुरू हो गया है। वीरवार सुबह से प्रदेश के मंत्रियों, विधायक और अफसरों में वाहनों से लालबत्ती उतारने का क्रम शुरू हो गया था। सबसे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज अपने सरकारी वाहन से लालबत्ती हटाने का आदेश दिया।

इसी तरह से अम्बाला में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने अपने सरकारी वाहन से लालबत्ती उतरवाई तो चंडीगढ़ में वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने भी नियमों का पालन किया। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला, शहरी निकाय मंत्री कविता जैन, मनीष ग्रोवर, नायब सिंह सैनी, मुख्य संसदीय सचिव सीमा त्रिखा व विधायक भगवान दास कबीरपंथी सहित कई लोगों ने अपने-अपने वाहनों से लालबत्ती कल्चर को खत्म किया। हालांकि सरकार के कई विधायक, चेयरमैन व अफसरों ने अभी बत्ती नहीं उतारी है, लेकिन 1 मई से पहले उन्हें भी नियमों की पालना तो करनी ही पड़ेगी। 

वी.आई.पी. कल्चर खत्म होना जरूरी: विज 
हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा वी.आई.पी. कल्चर को समाप्त करते हुए गाडिय़ों पर लगी लालबत्तियां हटाने का आदेश पारित किए हैं। इससे आम आदमी और वी.वी.आई.पी. लोगों के बीच का अंतर समाप्त होगा। 

देश हित में है मोदी का निर्णय: कविता 
शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने केंद्र सरकार द्वारा सभी मंत्रियों, राजनेताओं और उच्चाधिकारियों के सरकारी वाहन पर लालबत्ती के प्रयोग पर प्रतिबंध लगाने के फैसले का स्वागत किया है। कविता ने कहा कि लालबत्ती पर प्रतिबंध लगाने का फैसला आम नागरिक तथा शीर्ष गणमान्य लोगों के बीच खाई को पाटने का काम करेगा।

लालबत्ती हटने से लोकतांत्रिक मूल्यों को मिलेगी मजबूती: ग्रोवर 
सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर ने पी.एम. मोदी के इस निर्णय का स्वागत करते हुए कहा कि इस पहल से देश में लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूती मिलेगी। उन्होंने कहा कि सभी जन-प्रतिनिधियों को सत्ता-सुख भोगने की बजाय समाज की नि:स्वार्थ सेवा 
करनी चाहिए।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!