ऑडियों मामले में सीएम का बड़ा बयान, विजिलेंस विभाग करेगा मामले की जांच

Tuesday, March 13, 2018 8:47 AM
ऑडियों मामले में सीएम का बड़ा बयान, विजिलेंस विभाग करेगा मामले की जांच

चंडीगढ़(धरणी): मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सदन में जो विपक्ष ने पिहोवा वीडियो का मुदा उठाया हैं। हमने कहां है कि दो वीडियो सोशल मीडिया में चली है। दोनों ही वीडियो में कन्त्र डिक्शन है। अब जब तक तथ्य सामने नहीं आएंगे कि कौन सी ऑडियो सही है या नहीं है इसकी हम प्रारंभिक जांच करवाएंगे। हमने इस का आश्वासन सदन में दिया है और हमने इसकी जांच की जिम्मेवारी सौंपी दी है। विजिलेंस विभाग इसकी जांच करेगा और 1 महीने के अंदर रिपोर्ट देंगे। उसके बाद जो भी दोषी पाया जाएगा उसके ऊपर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले इसकी प्रारंभिक जांच होगी, इस ऑडियो की जांच होगी, उसकी आवाज की जांच होगी। एक ही व्यक्ति की वह दोनों ऑडियो बताई जा रही हैं तो देखा जाएगा कौन सी ऑडियो सही है इसके ऊपर जो भी दोषी होगा उस पर करवाई होगी।

सीएम ने कहा कि जब तक कोई व्यक्ति दोषी करार ना हो तब तक उस पर कार्रवाई करना सही नहीं है। अन्यथा कोई भी व्यक्ति किसी के भी खिलाफ सोशल मीडिया में आरोप लगा सकते हैं। इससे गलत खेल शुरू हो जाएगा और राजनीति में इस प्रकार के आरोप व्यक्तियों पर इस प्रकार के आरोप लगते रहते हैं।

मानेसर घोटाले में आए निर्णय पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि इस निर्णय का भी पूरा अध्ययन किया जा रहा है। इतना जरूर है कि जो मिडिल मैन है जिन्होंने पैसा लिया है उसकी सीबीआई जांच करवाई जाएगी। वह पैसा उन से वसूला जाएगा और सरकार को वह पैसा दिया जाएगा। यह उसमें स्पष्ट निर्देश है कि 622 एकड़ जमीन जो छोड़ी गई है वह गलत छोड़ी गई है। वह जमीन प्रदेश सरकार को हस्तांतरित की जाएगी।
 

मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सीबीआई की जांच पर सुप्रीम कोर्ट ने मोहर लगा दी है। आगे की कार्रवाई सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के मद्देनजर जो CBI चाहेगी उसके अंतर्गत की जाएगी।राज्यसभा के नामांकन पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा गई इसका विधिवत चुनाव चुनाव आयोग के द्वारा किया जाएगा पर मेरा मानना यह है कि एक मात्र नामांकन हुए हैं तो कहा जा सकता है कि उनका राज्यसभा में जाना लगभग लगभग निश्चित है।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!