कंप्यूटर ऑपरेटरों की हड़ताल से जनता परेशान, सरकारी कार्यालयों में कामकाज ठप्प

Monday, January 08, 2018 5:58 PM
कंप्यूटर ऑपरेटरों की हड़ताल से जनता परेशान, सरकारी कार्यालयों में कामकाज ठप्प

रादौर/यमुनानगर/पलवल (कुलदीप/ हरिंदर/गुरूदत्त): रविवार को सीएम सिटी करनाल में अपनी मांगो को लेकर सीएम आवास का घेराव कर रहे कुछ कम्प्यूटर आपरेटरों पर पुलिस द्वारा कार्रवाई की गई, जिससे नाराज प्रदेश के विभिन्न जिलों के कंप्यूटर ऑपरेटरों ने कामकाज ठप्प कर दिया। सरकारी कार्यालयों में कामकाज ठप्प होने की वजह से आमजन को परेशानी झेलनी पड़ी। वहीं लोगों का कहना है कि, हड़ताल के चलते सरकार ने ठोस कदम उठाए होते तो आज हमें परेशानी न उठानी पड़ती।

PunjabKesari

रादौर के स्थानीय निवासी जसवंत सिंह ने बताया कि, हड़ताल के चलते लोग अपने काम करवाने जब दफ्तर में पंहुचे तो कम्प्यूटर आपरेटरों की कुर्सियां खाली मिली। जिससे लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। प्रशासन को व्यवस्था करनी चाहिए थी ताकि आम जनता यूँ परेशानी न होती।

यमुनानगर में  उपायुक्त ने सुनाई खरी-खरी
सीएम सिटी में कंप्यूटर कर्मचारियों पर पुलिस द्वारा लाठियां बरसाने के विरोध में आज यमुनानगर के जिला सचिवालय में कच्चा कर्मचारी संघ ने प्रदर्शन किया। संघ ने इस दौरान  मुख्यमंत्री के नाम जिला उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा। लेकिन यहां भी कंप्यूटर ऑपरेटरों को जिला उपायुक्त ने खरी-खरी सुना दी।

PunjabKesari

वहीं कर्मचारी संघ के प्रधान सतपाल शर्मा का कहना है कि, करनाल प्रशासन द्वारा कर्मचारियों के ऊपर लाठियां बरसाना बहुत गलत कदम है, क्योंकि यह कर्मचारी तो शांति पूर्वक अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। जिसका कर्मचारी संघ विरोध करता है और इसी उपलक्ष्य में आज उन्होंने एक ज्ञापन मुख्यमंत्री के नाम सौंपा है।

पलवल में के कार्यालय में दिखा ऑपरेटरों का रोष
कंप्यूटर ऑपरेटरों पर की गई कार्रवाई का रोष पलवल जिला मुख्यालय सहित जिले की सभी तहसील, उप-तहसीलों में सरकारी विभागों के कम्प्यूटर ऑपरेटरों में देखने को मिला। इस दौरान सरकारी कार्यालयों में कंप्यूटर संबंधी कोई भी कार्य नहीं किया जा सका। जिसके कारण काम करवाने आए हजारों लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ा। वहीं सरकारी कार्यालयों में हड़ताल के कारण सन्नाटा छाया रहा।

PunjabKesari

पलवल के एसडीएम एस के चहल ने बताया कि, ऑपरेटरों की हड़ताल से आज विभागीय कामकाज सौ प्रतिशत प्रभावित हुए हैं। किसी भी दफ्तर में कोई काम नहीं हो पाया है। वहीं लोगों का कहना है कि, वे दफ्तरों से छुट्टी लेकर अपने काम के लिए यहां पहुंचे हुए थे, लेकिन हड़ताल होने से उन्हें निराश लौटना पड़ रहा है।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!