3 दिन दोस्त का शव कार की डिक्की में लेकर घूमते रहे, रिश्तेदार के घर छोड़ भागे

Friday, January 12, 2018 11:11 AM
3 दिन दोस्त का शव कार की डिक्की में लेकर घूमते रहे, रिश्तेदार के घर छोड़ भागे

रोहतक(ब्यूरो): लाहली से वाया मुरादपुर टेकना होते हुए मोखरा आ रही कार एक माइनर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। दुर्घटना में कार सवार मोखरा वासी एक व्यक्ति की मौत हो गई। कार सवार अन्य युवक शव को पी.जी.आई. पहुंचाने की अपेक्षा किसी जोखिम से बचने की फिराक में शव को कार की डिक्की में डालकर 3 दिन तक घुमाते रहे। आखिर में कार को लाखन माजरा में एक रिश्तेदार के यहां छोड़कर फरार हो गए। रिश्तेदारों ने मामले की भनक लगते ही कार में डैड बॉडी होने की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कार्रवाई की। विस्तृत जांच के लिए एफ.एस.एल. टीम को बुलाया गया। जांच उपरांत शव को पोस्टमार्टम के लिए पी.जी.आई. भेजा। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों के हवाले कर दिया।

हादसे में हुई राजवीर की मौत
जानकारी के अनुसार 8 जनवरी की देर रात मोखरा वासी राजवीर सिंह लाहली से गांव आने के लिए रोड पर अशोक कुमार के साथ खड़ा हुआ था। इस बीच मुरादुपर टेकना वासी मोनू कार लेकर आ गया। उसके साथ टेकना वासी दीपक भी था। राजवीर सिंह मोनू को अच्छे से जानता था। इसलिए देर रात के बावजूद वह उसके साथ गाड़ी में बैठ गया। बताया जा रहा है कि मुरादपुर टेकना व लाहली के मध्य माइनर के पास कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में राजवीर को गंभीर चोटें आईं और उसकी मौत हो गई। 
PunjabKesari
तीन दिन तक कार की डिक्की में शव डाल घुमाते रहे
कार के कागजात पूरे न होने या अन्य कारणों के चलते मोनू व दीपक ने हादसे के बारे राजवीर के परिजनों या अन्य किसी को जानकारी नहीं दी। उन्होंने राजवीर के शव को ठिकाने लगाने के लिए कार की डिक्की में डाला और 3 दिन इधर-उधर घुमाते रहे। आखिरकार गत रात वह लाखनमाजरा में एक रिश्तेदार के पास पहुंचे और कार को वहीं छोड़कर फरार हो गए। रिश्तेदारों को जब मामले की भनक लगी तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। 
PunjabKesari
पुलिस ने किया मामला दर्ज
थाना प्रभारी रमेश कुमार ने बताया कि राजवीर के शव का पी.जी.आई. से पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों के हवाले कर दिया। मामले में मोनू व दीपक सहित कई व्यक्तियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है। आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही पूरे प्रकरण से पर्दा उठ पाएगा।

परिजनों ने करवाई है गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज
मृतक राजवीर के पिता महेंद्र पंडित ने बुधवार को ही उसके लापता होने की पुलिस रिपोर्ट दर्ज करवाई है। महेंद्र ने बताया कि लाहली से अशोक के पास से राजवीर जब चला तो उन्होंने पूरा वाकया फोन पर सुन लिया था। वह इस दौरान राजवीर से बात कर रहा था। बाद में कार के दुर्घटनाग्रस्त होने की जानकारी मिली लेकिन राजवीर का कोई सुराग नहीं लगा। परिजनों ने आरोप लगाया कि यदि मोनू को गिरफ्तार करके कड़ाई से पूछताछ की जाए तो राजवीर के बारे पता चल सकता है।



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन