तबादला सरकार का अधिकार क्षेत्र : खेमका

Tuesday, November 14, 2017 11:50 AM
तबादला सरकार का अधिकार क्षेत्र : खेमका

चंडीगढ़ (धरणी):सामाजिक न्याय व अधिकारिता विभाग से तबादले के बाद अशोक खेमका का कहना है कि उनका स्थानांतरण क्रैश लैंडिंग है। अगर जनहित में तबादला हो तो सरकार का क्षेत्र अधिकार है। अगर ऐसा किसी के निजी स्वार्थ के लिए हुआ है तो वह अत्यंत दुखदायी है। उन्होंने कहा कि किसी रॉकेट ने मंगल ग्रह के लिए उड़ान भरी। मगर जब आपने वायुमंडल क्रास कर लिया तभी मैसेज आ जाए कि आप स्टेशन पर वापस आ जाओ। खेमका ने कहा कि फर्जी पैंशन पाने वालों की पहचान के लिए आधार से लिंक करवाने के प्रयास अब सिरे चढऩे की कागार पर हैं। यह लंबी उड़ान भरी गई। क्या आज जो पैंशन प्राप्त कर रहें है वे सही हैं। खेमका ने कहा कि वे यह मानने को तैयार नहीं कि कोई उनका उत्पीडऩ कर सकता है। खेमका कहते हैं कि मैं अपना हौसला नहीं खोता हूं, मैं अन्यायियों का मुंह तोड़ जवाब देने में विश्वास रखता हूं।पैंशन की योजनाएं लागू नहीं होने का दुख खेल विभाग के नए प्रधान सचिव अशोक खेमका ने कहा कि वैसे तो मुझे अच्छा महकमा मिला है लेकिन मुझे दुख इस बात है कि समाज कल्याण विभाग में सुधार की कुछ प्रक्रियाएं चल रही थी और वह अधूरी रह जाएगी।

उल्लेखनीय है कि खेमका को हुड्डा सरकार के दौरान समाज कल्याण विभाग का निदेशक नियुक्त किया गया था और तब भी उन्होंने बैंक के माध्यम से पैंशन देने की स्कीम लागू की थी लेकिन लोगों के भारी विरोध के चलते सरकार को यह योजना वापस लेनी पड़ी थी। ‘टैगोर और महात्मा गांधी मेरे प्रेरणास्रोत’ हरियाणा के आई.ए.एस. अधिकारी अशोक खेमका ने तबादले के दूसरे दिन एक मीडिया चैनल से बातचीत में कहा कि कभी-कभी नौकरी छोड़ने का मन करता है लेकिन ‘गांधी जी’ को पढ़कर रुक जाता हूं। इस बयान के सामने आने के बाद मीडिया चैनल से बातचीत में खेमका ने स्पष्ट किया कि ऐसा उन्होंने कभी नहीं कहा। इतना जरूर बोला कि टैगोर और गांधी मेरे प्रेरणास्रोत हैं। युवाओं को अक्सर सिविल सर्विसेज में आने के लिए प्रेरित किया। कभी मेरे मन में नहीं आया कि मैं नौकरी छोड़ दूं। तबादला करना सरकार के अधिकार क्षेत्र में आता है। 80 दिनों के अंदर तबादला करना है तो बेशक करें लेकिन अगर मेरे काम में कोई कमी है तो कम से कम मुझे बताया जाए।



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!