इंस्पेक्टर ने की बदतमीजी, मेरा गला पकड़ा और ढोल फाड़ दिया- परविंदर ढुल

Tuesday, March 13, 2018 8:12 AM
इंस्पेक्टर ने की बदतमीजी, मेरा गला पकड़ा और ढोल फाड़ दिया- परविंदर ढुल

चंडीगढ़(धरणी): इनेलो के वरिष्ठ नेता परविंदर सिंह ढुल ने किसानों को लेकर प्रदर्शन करने पर कहा कि 2015 में मेरी विधानसभा में ओलावृष्टि हुई थी और ओलावृष्टि से फसल बर्बाद हुई। उसके बाद सफेद मक्खी से नुकसान हुआ। आज तक कोई मुआवजा किसानों को नहीं दिया गया। मई 2017 में बारिश आई जिसकी वजह से 29 गांव बारिश में डूबे। 

जिसमें लगभग 22 23 ग्रामों की हजारों एकड़ फसल बर्बाद हुई। मामलों को लेकर मै मुख्यमंत्री और वित्त मंत्री से मिला। उन तमाम अधिकारियों से मिला, जब नेता प्रतिपक्ष अभय सिंह चौटाला वहां आए तो उन्होंने मुख्यमंत्री से बात की तो मुख्यमंत्री ने गोदारी से मुआवजे की हामी भरी। परंतु आज तक मुआवजा नहीं मिला।

प्रदर्शन करने पर परविंदर सिंह ढुल ने कहा कि आज विधानसभा के अंदर प्रदर्शन नहीं करने दिया और साथ में मेरे साथ बदतमीजी भी की गई। इकबाल सिंह इंस्पेक्टर ने बदतमीजी की। मेरा गला पकड़ा और ढोल भी फाड़ दिया। उन्होंने कहा कि प्रदर्शन करना विधायक का अधिकार है उसे कैसे रोक सकते हैं।

मैं माननीय विधानसभा अध्यक्ष को लिखित पत्र से जानकारी दूंगा और सदन के अंदर भी मुद्दा उठा लूंगा कि एक विधायक आवाज को कैसे दबाया जा रहा है। हम कानून के दायरे में रहकर प्रदर्शन कर रहे थे। जब यह बाढ़ आई थी तब भारतीय जनता पार्टी जींद में चिंतन शिविर में बैठे रहे परंतु किसी ने आकर जायजा नहीं लिया।

रविंद्र ढुल ने कहा कि जोकि बदसलूकी हुई है इसके ऊपर FIR भी हो सकती हैं और प्रिविलेज मोशन बनता है और विधानसभा अध्यक्ष को सजा देने का अधिकार है। हम निश्चित तौर पर इस पर कार्रवाई करेंगे।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!