बाल सुधार गृह से बाल कैदियों के फरार होने पर पूरा स्टाफ सस्पेंड, 10 नए CCTV लगवाए

Tuesday, February 13, 2018 4:25 PM
बाल सुधार गृह से बाल कैदियों के फरार होने पर पूरा स्टाफ सस्पेंड, 10 नए CCTV लगवाए

अंबाला(ब्यूरो): अंबाला के बाल सुधार गृह से भागे 9 बाल बंदियों के मामले में डीजीपी जेल डॉ. केपी सिंह ने पूरे स्टाफ को सस्पेंड कर दिया है। उनके स्थान पर नए कर्मचारियों को ड्यूटी पर लगाया गया है। हालांकि अभी इस मामले में महिला एवं बाल विकास की डायरेक्टर अनीता यादव ने किसी तरह का एक्शन नहीं लिया है। दूसरी तरफ बाल सुधार गृह में दस नए सीसीटीवी कैमरे भी लगा दिए हैं। 

उल्लेखनीय है कि शनिवार रात को बाल सुधार गृह के कमरा नंबर दो से 9 बाल बंदी फरार हो गए थे। इस पर डीसी ने एसडीएम व तहसीलदार की देख-रेख में टीम का गठन किया जिन्होंने जांच में पाया कि गृह के अधिकारियों की तरफ से घोर लापरवाही और कोताही बरती गई है जिस कारण बाल बंदी फरार हो गए। रिपोर्ट में यह भी स्पष्ट किया कि गृह से वह ताला नहीं मिला है जिसे बंदियों ने तोड़ा था। इसकी रिपोर्ट आगे अधिकारियों के पास भेज दी गई थी जिसे महिला एवं बाल विकास विभाग से जेल अथॉरिटी को लिखा गया। इस पर डीजीपी जेल डॉ. केपी सिंह ने असिस्टेंट सुपरिंटेंडेंट भूपिंद्र, हेड वार्डर नायबदीन, वार्डर सुरेश व कृष्ण को सस्पेंड कर दिया है। महिला एवं बाल विकास की डायरेक्टर अनीता यादव का कहना है कि अभी वह छुट्टी पर चल रही हैं। अगर मामले में उनके विभाग से किसी की लापरवाही पाई जाती है तो उस पर भी एक्शन लिया जाएगा। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!