17 साल की अनाथ लड़की को किया रेस्क्यू, मेडिकल करवाने के बाद पलट गई कहानी(video)

Friday, January 5, 2018 6:06 PM

अंबाला(अमन कपूर):अंबाला कैंट में एक दिल दहला देने वाला तथ्य सामने अाया है।जहां प्रशासन को एक लड़की ने फोन कर कहा कि अगर अाज नहीं बचाया तो कल मेरी लाश मिलेगी। जिसके बाद मामले की जांच की गई तो कहानी चौंकाने वाली निकली। प्रशासन ने दबिश देकर एक 17 साल की अनाथ लड़की का रेस्क्यू करवाया। सिविल अस्पताल से लड़की का मैडिकल करवाकर नारी निकेतन भेज दिया गया है। 
PunjabKesari
कैंट के एफसीआई गोदाम के पास रहने वाली एक लड़की ने बहादुरी दिखाते हुए घरेलू हिंसा के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। पीड़िता ने दिल दहला देने वाली व्यथा में बताया कि उसके माता-पिता की मौत हो चुकी है। जिसके बाद से वह अपने चाचा के घर पर रह रही थी। चाचा और उसका परिवार घर का पूरा काम करवाता और जुल्म भी करता है। चचेरा भाई तो उसके साथ मारपीट भी करता था। उसने इस बात की भी जानकारी दी कि घर वाले उसकी जबरन शादी करवाना चाहते हैं। जिससे तंग अाकर लड़की ने बाल संरक्षण अधिकारियों से मदद मांगी।
PunjabKesari
सूचना मिलते ही बाल संरक्षण की टीमों ने लड़की के बताए ठिकाने पर धावा बोल कर वहां से लड़की को रेस्क्यू कर लिया। लड़की के शरीर पर कई जगह चोटों के निशान पाए गए हैं। रेस्क्यू के बाद कहानी में उस समय नया मोड़ अा गया जब बाल कल्याण समिति की टीम उसका मेडिकल करवाने के लिए कैंट सिविल अस्पताल ले जा रही थी। मेडिकल करवाने के से पहले किशोरी कह रही थी कि उसने एक पुलिस वाले की मदद से हेल्पलाइन पर फोन करके मदद मांगी थी, परंतु मेडिकल के बाद किशोरी अपने बयानों से फिर गई। उसने नारी निकतेन जाने से साफ मना कर दिया तो टीम के पैरों तले से जमीन खिसक गई। उसने टीम के सदस्यों को बताया कि वह एक लड़के से प्यार करती है उसके कहने पर ही उसने अपने ऊपर ढहाए जा रहे जुल्मों की शिकायत पुलिस से की थी।
PunjabKesari
जिला बाल संरक्षण अधिकारी मेघा सिंगला ने बताया कि किशोरी के शरीर पर कई जगह चोटों के निशान हैं और उसने चाचा व चाचा के बेटे पर मारपीट करने के आरोप लगाए हैं। फिलहाल उसकी काउंसलिंग की जाएगी ताकि पूरी बात का पता चल सके।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!