यादविन्द्रा गार्डन के गो कार्ट में फंसने से महिला की दर्दनाक मौत

Wednesday, February 14, 2018 4:08 PM
यादविन्द्रा गार्डन के गो कार्ट में फंसने से महिला की दर्दनाक मौत

पंचकूला(उमंग श्योराण): पंचकूला के पिंजौर के यादविंद्रा गार्डन परिसर में स्थित एक्वा विलेज वाटर पार्क में गो कार्ट राइडिंग के दौरान गो कार्ट के पिछले टायर में महिला के बाल आने से महिला के बाल सिर से पूरी तरह उखड़ गए बाद में उसकी मौत हो गई। घटना वैलनटाइन डे की दोपहर 2 बजे के करीब की है। हरियाणा ट्यूरिज्म विभाग द्वारा वाटर पार्क के लिए टैंडर प्रक्रिया के बाद वाटर पार्क को चलाने के लिए 2013 में अगले 10 साल के लिए ठेका दिया था। ठेकेदार ने एक्वा विलेज वाटर पार्क नाम से यहां वाटर पार्क का निर्माण करवाया जो पिछले तकरीबन 5 साल से चल रहा था। 

PunjabKesari
इस वाटर पार्क में वाटर राइड के अलावा गो कार्ट,वुल राइडिंग आदि अन्य झूले भी हैं। बुधवार को जिला भटिंडा स्थित कस्बा रामपुरा फूल से एक परिवार शहर के यादविंद्रा गार्डन घूमने आया। जिस दौरान उन्होंने वाटर पार्क में जा कर करीब 2 बजे गो कार्ट की सवारी के ‌गो कार्ट की टिकट ली। इस दौरान परिवार के 6 लोगों ने 4 गो कार्ट किराए पर लीं। दो गो कार्ट में दो दो सवार थे जबकि अन्य दो गो कार्ट में परिवार का एक एक व्यक्ति सवार था। 

PunjabKesari

पुनीत कौर और उसका पति अमरदीप सिंह दोनों एक ही गो कार्ट सवार हो गए और मृतका का पति अमरदीप गो कार्ट को चलाने लगे। अभी एक राउंड राइड का पूरा भी नहीं हो पाया था कि अचानक पुनीत कौर के बाल गो कार्ट के पिछले टायर में आ गए और उसमें फंस गए जिस से एक झटके में ही उसके बाल पूरी तरह सिर से अलग  हो गए।

पुनीत कौर को घायल अवस्था में एक्वा वाटर विलेज वाटर पार्क प्रबंधन द्वारा शहर के एक निजी अस्पताल में ले जाया गया जहां से उसे पंचकूला के सरकारी अस्पताल में रैफर कर दिया। जहां पर उसकी मौत हो गई। 

मिली जानकारी के अनुसार गो कार्ट में बैठने से पहले मृतका पु‌नीत कौर को  हैलमेट और बालों को बांधने के लिए बैंड दिया था। उसने बताया कि हैल्मेट पहनने के बाद महिला ने अपनी जैकेट के भीतर अपने बाल कर लिए परंतु बाद में राइड के दौरान उसने बाल जैकेट से बाहर कर लिए। राइड के दौरान अचानक उसके बाल गो कार्ट में आ गए। उसने बताया कि राइड के दौरान किसी ट्रेनिंग की आवश्यकता नहीं होती।

जरा सी चूक साबित हुई जानलेवा:
 गो कार्ट राइडिंग के दौरान हैल्मेट, महिलाओं के बालों के लिए हेयर बैंड आदि  राइडर को दिए जाते हैं ताकि किसी भी अनहोनी से बचा जा सके। परंतु कई बार राइडर या प्रबंधन सुरक्षा को दरकिनार करता है तो इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है। इस घटना में कोई सोच भी नहीं सकता कि जरा सी लापरवाही से बाल गो कार्ट के पिछले टायर में आ जाएंगे। इस घटना में महिला के लंबे बाल और जरा सी असावधानी उसके लिए जानलेवा साबित हुई।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!