प्रगतिशील किसानों को मिलेंगे पुरस्कार: धनखड़

Monday, March 20, 2017 1:15 PM
प्रगतिशील किसानों को मिलेंगे पुरस्कार: धनखड़

फरीदाबाद(सूरजमल):हरियाणा सरकार प्रगतिशील किसानों को प्रत्येक वर्ष विभिन्न क्षेत्रों में पुरस्कार देगी और इन किसानों को एक लाख रुपए की राशि पुरस्कार स्वरूप दी जाएगी। पैरी अर्बन खेती को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश स्तर पर मतस्य पालन के क्षेत्र में मतस्य रतन पुरस्कार, फल उत्पारन के क्षेत्र में फल रतन पुरस्कार, सब्जी उत्पादन के क्षेत्र में सब्जी रतन पुरस्कार, फूल उत्पादन के क्षेत्र में फूल रतन पुरस्कार और जैविक खेती के क्षेत्र में प्रगतिशील किसान को हरियाणा जैविक रतन पुरस्कार से नवाजा जाएगा। इन प्रगतिशील किसानों को एक-एक लाख रुपए की राशि दी जाएगी। यह घोषणा सूरजकुंड में आयोजित द्वितीय कृषि नेतृत्व शिखर सम्मेलन में हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने की।

इस अवसर पर राज्य के कुल 53 किसानों को पुरस्कृत किया गया, जिनमें से 6 पुरस्कार राज्य स्तर के थे और 26 पुरस्कार जिला स्तर के बागवानी किसानों को दिया गया। इसके अतिरिक्त, 21 पुरस्कार मत्स्य पालन के लिए जिला स्तर पर दिए गए। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार किसानों की आय बढ़ाने के मद्देनजर करनाल में एक बागवानी विश्वविद्यालय खोलने जा रही है। बागवानी को बढ़ावा देने के लिए कुछ गांवों को बागवानी गांव बनाया जाएगा जो पूरा गांव बागवानी होगा और इसके पहले चरण में ऐसे 340 गांवों को गोद लिया जाएगा। 

जहां पर सब्सिडी देकर माइक्रो सिंचाई और पोली हाउस को बढ़ावा दिया जाएगा। हैफेड के चेयरमैन हरविंद्र कल्याण ने कहा कि किसान की तरक्की में ही देश की तरक्की है। उन्होंने कहा कि बीज, खाद, बिजली, दवाइयोंं वाले सभी अपना अपना मुनाफा कमाकर चले जाते है लेकिन किसान फसल पैदा करने के बाद भी मुनाफा नहीं कमा पाता इसके लिए सरकार चितिंत है और किसानों की आय दोगुणा करने के लिए देश व प्रदेश की सरकार योजनाएं बना रही है। उन्होंने किसानों को विश्वास दिया किसानों की आय को बढ़ाने लिए हैफेड हर संभव मदद करने को तैयार रहेगा। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!