सोशल मीडिया पर ODF को लेकर टिप्पणी DC को पड़ी भारी, ग्रामीणों ने की बोलती बंद

Friday, June 16, 2017 12:06 PM
सोशल मीडिया पर ODF को लेकर टिप्पणी DC को पड़ी भारी, ग्रामीणों ने की बोलती बंद

नूंह (एके बघेल):नूंह मेवात डीसी इन दिनों खासी चर्चाओं में बने हुए हैं। चर्चाओं में रहने की वजह सोशल मीडिया बना है। सोशल मीडिया पर उपायुक्त मनीराम शर्मा की टिपण्णी उन पर इतनी भारी पड़ी कि बेचारे की बोलती बंद हो गई। तभी इलाके की जनता ने सोशल मीडिया से टिपण्णी कर उसका करारा जवाब दिया। नेताओं से लेकर आम जनता में डीसी नूंह मेवात की टिपण्णी की जमकर निंदा हो रही है। वैसे यह कोई नया मामला नहीं है।
PunjabKesari
इससे पहले भी डी.सी. मनीराम शर्मा फेसबुक और व्हाट्सएप्प पर तीखी टिपण्णी कर विवादों में रहे हैं, लेकिन इस बार तो देश ही नहीं बल्कि दुनिया भर में उनकी आलोचना हो रही है। सबका साथ-बका विकास कार्यक्रम ने यासीन मेव डिग्री कॉलेज नूंह में पहुंचे। पत्रकारों ने डीसी मनीराम शर्मा से विवादित टिपण्णी को लेकर बातचीत करनी चाही तो वे उपायुक्त छिपते दिखे और बात करने से ही इंकार कर दिया। अपनी फेसबुक पोस्ट में उन्होंने स्वच्छता अभियान का जिक्र किया है, लेकिन ऐसी भाषा का इस्तेमाल किया है जिस पर हरियाणा के जिला नूंह मेवात के कई लोग उनकी भाषा पर आपत्ति जता रहे हैं। 
PunjabKesari
जानकारी के मुताबिक 2009 बैच के आई.ए.एस. अफसर मणिराम शर्मा नूंह (मेवात) के जिला मजिस्ट्रेट (उपायुक्त) हैं। उन्होंने लिखा कि 'मैंने तसल्ली से अकड़ ढीली कर दी'
उन्होंने फ़ेसबुक पर गत दिवस एक तस्वीर जारी की थी, जिसमें कुछ लोगों को घुटने के बल बैठा दिखाया गया है और पुलिस उनके इर्द-गिर्द खड़ी है। तस्वीर के साथ मणिराम शर्मा ने लिखा:- सालाहेडी और सलम्बा खुले में शौच के लिए 2 सर्वाधिक बदनाम गांवों में बड़े-बड़े लोग, उनसे ज्यादा संख्या में बड़े-बड़े लोगों के चमचे। इस चमचागिरी की ताकत के दम पर ना तो ये सरपंच की सुनते हैं और न ही जिला प्रशासन की। आज इनकी अकड़ ढीली करनी थी और तसल्ली से ढ़ीली कर भी दी। फोटो में दिखने वाले चारों व्यक्ति न केवल सम्पन्न और पहुंच रखने वाले हैं, बल्कि इनके घरों में शौचालय भी हैं। फिर भी चमचागिरी की ताकत का भरोसा कुछ ज्यादा ही  इनको था। 
PunjabKesari
खबर है कि पकड़े गए 4 लोगों से 1100 -1100 रुपअ वसूले गए। इनको न केवल विभिन्न धाराओं में गिरफ्तार किया गया और फिर पंचायत खाते में जुर्माना भी वसूल किया गया। शर्मा ने आगे लिखा,"एक तरफ कहते हैं कि खुले में शौच करने वालों का न रोजा कबूल होता है और न नमाज। वहीं दूसरी तरफ पाक रमजान में यह हरकत नाकाबिले बर्दाश्त तो है ही, जाहिर सी बात है कि फोर्स इसी हिसाब से धावा बोलेगी।"
PunjabKesari
'मेरी भाषा ऐसी ही है, मुझे इससे प्यार है'
इस बीच शर्मा ने एक और फेसबुक पोस्ट डाली। इसमें उनकी भाषा को लेकर आपत्ति जता रहे लोगों को चुनौती देते हुए उन्होंने लिखा- "कुछ लोगों को मेरी भाषा-शैली पर आपत्ति है। संख्या ज्यादा ही है। आपत्ति करने वालों ने मेरी भाषा अभी सुनी ही कहां है। मेरी भाषा में 10 शब्दों वाले वाक्य में 8 शब्द गाली ही होते हैं। वही मेरी ऑरिजनल भाषा है और मुझे अपनी भाषा से बहुत प्यार है। आप लोगों को जाकर UPSC में शिकायत अवश्य करनी चाहिए, जिन्होंने एक बार नहीं, 2बार नहीं, बल्कि 3 बार मुझे IAS सिलेक्ट किया और वह भी बिना किसी रिजर्वेशन 'अल्पसंख्यकों के गांव हैं सालाहेडी और सलम्बा। 

शौच पर छापेमारी जारी रहेगी बुधवार सुबह अपनी ताजा फेसबुक पोस्ट में शर्मा ने जानकारी दी है। "सुबह साढ़े 4 बजे से 6 बजे के बीच होने वाली छापेमारी जारी रहेगी। अगले गांव होंगे आलदोका, कुरथला, छपेडा और छछेडा, एक्शन में कोई नरमी मंजूर नहीं, छापेमारी दिल से जारी रहेगी। डी.सी. शर्मा सोशल मीडिया के शौकीन हैं। अतिरिक्त उपायुक्त से उपायुक्त बनाए गए शर्मा आई.ए.एस. कई साल से यहां हैं। उन्होंने फेसबुक और कई व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाए हुए हैं। शुरुआत में तो लोगों को मनीराम का यह तरीका पसंद आया, लेकिन उनकी पोस्ट ने कई बार बवाल मचाया। इस बार तो हंगामा कुछ ज्यादा ही खड़ा हो गया, जिससे उपायुक्त मनीराम के भी पसीने छूटे हुए हैं। 
 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!