नौकर ने गल्ले से उड़ाए 2.60 लाख रुपए, वारदात C.C.T.V. मैं कैद

Tuesday, November 14, 2017 2:30 PM

यमुनानगर(सतीश ओबेरॉय):नेपाली नौकर ने अपने ही मालिक के गल्ले से 2 लाख 60 हजार रुपए पर हाथ साफ कर दिया। घटना सोमवार सुबह 10 बजे की है। कैंप स्थित कालड़ा सीमैंट एंड सैनेटरी स्टोर के संचालक अंकुश कालड़ा ने सुबह 8 बजे स्टोर खोला। 10 बजे के लगभग उनका नौकर मनोज वासी नेपाल स्टोर पर आ गया। वह सफाई करने लगा। इस दौरान अंकुश बाहर चला गया। इससे पहले उसका भाई गौरव गल्ले में 3 लाख 10 हजार रुपए रखकर गया था। शनिवार-रविवार छुट्टी होने के कारण सोमवार को यह पैसे बैंक में जमा करवाने थे। उधर घटना की सूचना पर गांधी नगर चौकी इंचार्ज सतपाल सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे। लिखित शिकायत के बाद पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। 

100 सैकेंड में रुपए लेकर बाहर निकला 
जिस स्टोर में वारदात हुई उसमें 3 कैमरे लगे हुए हैं। अंदर लगे कैमरे में नौकर मनोज की सारी हरकत कैद हो गई। करीब 12 मिनट वह अकेला रहा और नाटकीय अंदाज में सफाई करता रहा। 10 बजकर 12 मिनट पर उसने पेंचकस उठाया और अगले 100 सैकेंड में ताला तोड़कर रुपए जैकेट व लोवर की जेब में डाल लिए। यहां से बाहर निकला और मालिक से कहा कि 5 मिनट में वापस आएगा। उसके बाद से अब तक उसका कुछ पता नहीं है। पुलिस को भी उसकी तलाश है। 
PunjabKesari
फिर वही लापरवाही आई सामने 
घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी मनोज संबंधी दस्तावेज मांगे। संचालक पेश नहीं कर पाया। हां उसने इतना जरूर बताया कि मंदिर में रहने वाले चौकीदार के माध्यम से मनोज को नौकरी पर रख गया था। 2 महीने से वह उनके पास काम कर रहा है। दीवाली से पहले वह छुट्टी लेकर नेपाल चला गया था। 2 दिन पहले ही काम पर लौटा है और तीसरे दिन वारदात को अंजाम दे दिया

कहीं आप भी न बन जाएं मनोज जैसे का शिकार
शहर में ऐसे लोगों की कोई कमी नहीं है जिन्होंने किरायेदार व नौकर बिना वैरीफिकेशन के रखे हैं। ऐसा न हो कि कहीं आप भी मनोज जैसे आरोपी का शिकार बन जाए। इससे जहां पैसा जाएगा, वहीं मानसिक परेशानी भी उठानी पड़ेगी और यदि पुलिस ने सख्ती बरती तो कानूनी कार्रवाई का भी सामना करना पड़ेगा। यह सुविधा मौजूदा समय में ऑनलाइन है। इसके लिए थाना या चौकी जाने की भी आवश्यकता नहीं है। 
PunjabKesari
जांच अधिकारी सतपाल सिंह ने बताया कि मनोज के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। चौकीदार से भी उसकी शिनाख्त का प्रयास किया जा रहा है। वहीं सी.सी.टी.वी. की फुटेज में उसकी सारी हरकत कैद हो गई है। फिंगर एक्सपर्ट से भी मौका करवाया गया है। प्रयास है जल्द से जल्द इस मामले को सुलझाया जाए। किराएदार व नौकर की वैरीफिकेशन को लेकर लोग संजीदा नहीं है। नोटिस देने के बाद भी वे संज्ञान नहीं ले रहे। अब वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!