इन पहलवानों के लिए खुशनुमा रहा 2017, परिणय सूत्र में बंधे ये जोड़े

Saturday, December 30, 2017 1:06 PM
इन पहलवानों के लिए खुशनुमा रहा 2017, परिणय सूत्र में बंधे ये जोड़े

चंडीगढ़(ब्यूरो): 2017 बीतने में महज दो दिन रह गए हैं। ये साल हरियाणा के लिए काफी महत्वपूर्ण रहा। कुछ अच्छे पलों के साथ तो कुछ बुरे पलों के साथ। आज हम आपको 2017 में हुए कुछ ऐसे ही खुशनुमा पलों के बारे में बताएंगे जो प्रदेश की बुलंदियों को चार चांद लगाने वाले पहलवानों की जिंदगी में आए। हम आपको उन चार पहलवानों के बारे में बताएंगे जो 2017 में परिणय सूत्र में बंधे।
PunjabKesari
साक्षी मलिक अौर सत्यव्रत कादियान बंधे परिणय सूत्र में
रियो अोलंपिक में कांस्य पदक जीतकर देश का नाम रोशन करने वाली रेसलर साक्षी मलिक 2 अप्रैल को शादी के बंधन में बंधी। उन्होंने रेसलर सत्यव्रत कादियान के साथ रोहतक में सात फेरे लिए। साक्षी और सत्यव्रत ने 2016 अक्टूबर में सगाई की थी। सत्यव्रत 97 किलोग्राम फ्रीस्टाइल कैटेगरी में रेसलिंग करते हैं और 2010 यूथ ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीत चुके हैं। उन्होंने 2014 कॉमनवैल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल जीता था। सत्यव्रत उम्र में साक्षी से दो साल छोटे होने के साथ उनके गुरू भी हैं। दोनों की मुलाकात अखाड़े में कुश्ती के दांव आजमाने के दौरान हुई थी। 
PunjabKesari
इसी साल लिए टीम इंडिया की हॉकी प्लेयर ने सात फेरे
इंडियन वुमन हॉकी टीम की प्लेयर अौर यमुनानगर की रहने वाली दीपिका ठाकुर ने इसी साल करनाल के रहने वाले विक्रम के साथ सात फेरे लिए। विक्रम दिल्ली के एक होटल सम्राट में मैनेजर अौर दीपिका रेलवे कोच फैक्ट्री कपूरथला में कार्यरत हैं। दीपिका एशियन चैंपियनशिप विजेता महिला हॉकी टीम की सदस्य रही हैं। दीपिका ने 2003 में अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी और इसके बाद से ही वह नियमित तौर पर वरिष्ठ महिला हॉकी टीम की सदस्य रही हैं। पिछले साल महिला हॉकी टीम ने चैम्पियंस ट्रॉफी का खिताब जीता था। इस मैच में वह सर्वोच्च स्कोर हासिल करने वाली खिलाड़ी बनी थीं। इसके बाद इसी साल अप्रैल में भारतीय महिला हॉकी टीम की मिडफील्डर दीपिका ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने 200 मैच पूरे कर किए हैं। दीपिका ने अपना 200वां मैच टीम के साथ महिला हॉकी विश्व लीग राउंड-2 में कनाडा में चिली के खिलाफ खेला, जिसमें इस मैच में शूटआउट में चिली के खिलाफ दीपिका ने ही तीसरा और अंतिम गोल दागा था।
PunjabKesari
पहलवान योगेश्वर दत्त ने शीतल संग लिए सात फेरे
कुश्ती जगत में पहलवानजी के नाम से मशहूर ओलंपिक में देश को ब्रॉन्ज मेडल दिलाने वाले पहलवान योगेश्वर दत्त ने शीतल के साथ सात फेरे लिए थे। शीतल हरियाणा के कांग्रेस नेता जयभगवान शर्मा की बेटी हैं। योगेश्वर दत्त ने लंदन ओलंपिक, 2012 में देश के लिए ब्रॉन्ज मेडल जीता था। इसके अलावा ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स, 2014 में उन्होंने गोल्ड जीता था। उन्होंने 2014 इंचियोन खेलों में भी गोल्ड मेडल जीता था, लेकिन योगेश्वर अपने करियर में लगातार चोटों से जूझते रहे हैं। 2015 में लास वेगास में हुई विश्व चैंपियनशिप और 2013 में हुई हंगरी (वुडा पेस्ट) में हुई विश्व चैंपियनशिप में भाग नहीं ले पाए थे। योगेश्वर ने 65 किग्रा वर्ग से रियो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था। उन्होंने कजाकिस्तान (अस्ताना) में हुई एशियन ओलंपिक क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट में 65 किग्रा वर्ग में गोल्ड मेडल जीतकर रियो के लिए अपनी जगह पक्की की थी। हालांकि रियो ओलंपिक में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा था और पहले ही दौर में बाहर हो गए थे।
PunjabKesari
रेसलर शिल्पी श्योराण ने ओलंपियन पहलवान नरसिंह यादव से की शादी
हरियाणा की लेडी रेसलर शिल्पी श्योराण और ओलंपियन पहलवान नरसिंह यादव इसी साल 10 मार्च को शादी के बंधन में बंधे। शिल्पी और नरसिंह की ये लव कम अरेंज मैरिज थी। रेसलर नरसिंह यादव 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में पुरुषों के 74 Kg. वेट सेगमेंट में फ्रीस्टाइल कुश्ती में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं। 2016 में हुए रियो ओलंपिक में डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने पर वे सुर्खियों में आए थे। 3 साल की उम्र से ही ट्रेनिंग ले रहे नरसिंह महाराष्ट्र सरकार में डीएसपी भी हैं। वे पूर्वी उत्तर प्रदेश के पंचम यादव और भुलना देवी के बेटे हैं। वहीं शिल्पी श्योराण ने अपने खेल करियर की शुरुआत 2005 से की थी, लेकिन खेलों के दौरान दो बार चोटिल होने के चलते उन्हें बीच में ब्रेक लेना पड़ा। वे दक्षिण एशियाई खेलों के रेसलिंग कॉम्पिटीशन में गोल्ड मेडल जीत चुकी हैं।
 



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!