अन्ना हजारे का सत्याग्रह 23 मार्च से दिल्ली के रामलीला मैदान में, जानें वजह (VIDEO)

Tuesday, February 13, 2018 10:14 PM

बहादुरगढ़(प्रवीण धनखड़): जनलोकपाल के लिए आवाज बुलंद करने वाले समाजसेवी अन्ना हजारे 23 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में सत्याग्रह शुरू करने जा रहे हैं। अन्ना हजारे हरियाणा के किसानों के समर्थन में हैं। अन्ना हजारे ने किसानों के लिए 5 हजार रुपए मासिक पेंसन की मांग की है। अन्ना हजारे बहादुरगढ़ में एक जनसभा को संबोधित करने आए थे।

समाजसेवी वीरेंदर पहलवान ने अन्ना का सत्याग्रह नाम से जनसभा का आयोजन किया था। अन्ना ने कहा कि 23 मार्च से दिल्ली के रामलीला मैदान में किसानों के हक के लिए सत्याग्रह करेंगे। अन्ना ने कहा कि देश और प्रदेश में किसानों का शोषण हो रहा है। 22 सालों में 12 लाख किसान आत्महत्या कर चुके हैं फिर भी सरकार सिर्फ अपने फायदे के लिए काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि किसान को खर्च का डेढ़ गुना भाव मिलना ही चाहिए, किसानों के लिए ही वो 23 मार्च से रामलीला मैदान में बैठने वाले हैं। उन्होंने बताया कि किसान पेंशन बिल भी संसद में पेंडिंग पड़ा है। उन्होंने कहा कि किसान उम्रभर खेत और खेती से जुड़ा रहता है और एक वक्त ऐसा आता है कि किसान के पास कुछ नहीं बचता इसलिए जरूरी है कि किसान को पेंशन मिलनी ही चाहिए। 

उन्होंने जीएसटी और नोटबन्दी को लेकर भी सरकार पर हमला बोला। अन्ना ने कहा कि जीएसटी से सरकार को मोटा पैसा मिल रहा है। लेकिन फिर भी पेट्रोल और डीजल को उसके दायरे में नहीं लाया गया। उन्होंने सरकार से किसानों को उनके खर्च का डेढ़ गुना मूल्य और पेंशन देने की मांग की है। अन्ना हजारे ने छोटूराम धर्मशाला के साथ लगते मैदान किसानों को रामलीला मैदान का न्योता भी दिया।



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!