स्कूल में छात्रों से काम करवा रहे अध्यापक, अभिभावकों में गहरा रोष

Friday, May 19, 2017 1:32 PM
स्कूल में छात्रों से काम करवा रहे अध्यापक, अभिभावकों में गहरा रोष

यमुनानगर:सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को सुधारने व बच्चों की संख्या बढ़ाने पर जोर दिया जा रहा है। वहीं, कुछ अध्यापक इस योजना को फेल करते नजर आ रहे हैं। ऐसा ही एक मामला छछरौली के गांव राजपुर के सरकारी स्कूल में देखने को मिला। अध्यापक स्कूल के छात्रों खासकर लड़कियों से चाय बनाने, बर्तन धोने, पानी पिलाने, झाडू़ लगवाने तक का काम लेते देखा गया है जिसकी शिकायत अभिभावक कई बार पंचायत, मौजिज लोगों व विभाग को कर चुके हैं जिसके चलते अभिभावकों में शिक्षा विभाग व स्कूल अध्यापकों के प्रति गहरा रोष पनप रहा है। 

ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर स्कूल में बच्चों से तुरंत काम करवाना बंद नहीं किया गया तो ग्रामीण स्कूल को ताला जड़ देंगे। वहीं, स्कूल अध्यापक बच्चों से केवल चाय बनवाने तक की बात मान रहे हैं। उधर, शिक्षा विभाग के अधिकारी इसे अवैध कार्रवाई बता रहे हैं। 

क्या कहना है हैड टीचर का
स्कूल के हैड टीचर सुनील कुमार ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया। उन्होंने बताया कि उनके सहित स्कूल में 3 गैस्ट टीचर हैं। स्कूल में कुक भी है। गत दोपहर वह चाय बनाने के बाद अनुमति लेकर गांव में चली गई। छात्राएं किसी अन्य काम से रसोई में गई थीं। उनके द्वारा किसी भी बच्चे से किसी भी तरह का काम नहीं लिया जा रहा। 

डी.ई.ई.ओ. बोले-मिली है शिकायत, करेंगे कार्रवाई 
डी.ई.ई.ओ. सुरेश कुमार का कहना है कि सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले किसी भी बच्चे से पढ़ाई के अलावा अन्य कोई काम नहीं लिया जा सकता। राजपुर के स्कूल में बच्चों से अध्यापकों द्वारा चाय बनवाने व अन्य काम करवाने की शिकायत मिली है। जिसकी जांच की जाएगी। जो भी अध्यापक इसमें दोषी पाए जाएंगे, के खिलाफ कानूनी कारवाई की जाएगी। 



विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !