देश का सीना चौड़ा करने के हर मौके पर कांग्रेस करती है नकारात्मक राजनीति: विज

8/1/2020 12:55:50 AM

चंडीगढ़ (धरणी): अंबाला छावनी विधायक एवं प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज से राफेल लड़ाकू विमान के भारत लाए जाने पर पंजाब केसरी ने खास बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा ही नकारात्मक राजनीति की है। हर उस मौके पर जब देश का सीना चौड़ा करने का समय होता है, सिर उंचा उठाने का वक्त होता है तो कांग्रेस देश में भ्रान्ति फैलाने की कोशिश करती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सोच ही इस प्रकार की है।

अनिल विज की दबंग और ईमानदार छवि के कारण अंबाला छावनी हमेशा से ही सुर्खियों में रहती है और यहां की जनता उन पर काफी गर्व महसूस करती है। लेकिन अब अंबाला छावनी की जनता के पास गर्व करने का एक और मौका हाथ लग गया हैै। विश्व का सबसे हाईटैक फाईटर प्लेन राफेल हिन्दुस्तान की धरती पर अंबाला छावनी पहुंच गया है क्योंकि भारतीय वायुसेना ने इसे अम्बाला एयरबेस में तैनात करने का फैसला लिया है। इससे यहां के लोगों में काफी खुशी है वहीं प्रदेश सरकार के गृहमंत्री अनिल विज भी इससे काफी उत्साहित हैं। 

गृहमंत्री अनिल विज व पंजाब केसरी के प्रतिनिधि के बीच हुई बातचीत के प्रमुख अंश-

प्रश्न-
भारत को 5 राफेल मिले हैं जिन्हे अंबाला एयरबेस में शामिल किया गया है इसे किस रूप में देखते हैं? एयरफोर्स को किस तरह की ताकत मिलेगी?
उत्तर- यह एक बहुत बड़ी उपलब्धि है, इतिहास रचा जा रहा है, फाईटर प्लेन्स का सरताज अंबाला छावनी के बेड़े में शामिल किया जा रहा है। एयरफोर्स को इससे बहुत मजबूती मिलेगी, सभी सैन्य सुविधाओं से सम्पन्न एयरक्रॉफ्ट है। इसके आने से एक छतरी बन जाएगी। कोई भी दुश्मन देश की सीमाओं में झांकने की सोच भी नहीं सकेगा।

प्रश्न:-1962, 65 और 71 के चीन-पाक युद्धों में अंबाला का बहुत बड़ा महत्वपूर्ण रोल रहा है?
उत्तर- अंबाला देश का एक बहुत महत्वपूर्ण एयरबेस है। जगुआर का स्क्वाड्रन भी यहीं पर आया था। 1965 और 71 के युद्धों में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका रही और राफेल के आने से ताकत दोगुनी हो गई है।

प्रश्न- कांग्रेस अब भी राफेल को लेकर हू-हल्ला मचा रही है। कई तरह के सवाल खड़े कर रही है। कीमत में भारी अंतर बता रही है ?
उत्तर- कांग्रेस ने हमेशा ही नकारात्मक राजनीति की है। हर उस मौके पर जब देश का सीना चौड़ा करने का समय होता है, सिर उंचा उठाने का वक्त होता है तो कांग्रेस देश में भ्रान्ति फैलाने की कोशिश करती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सोच ही इस प्रकार की है।

प्रश्न- अनिल विज के लिए जाना जाने वाला अम्बाला अब राफेल के लिए जाना जा रहा है। क्या कहेंगे?
उत्तर- अंबाला के इतिहास में एक नया अध्याय जुडऩे जा रहा है। हर आदमी बड़े फर्क की बात मान रहा है, हर आदमी गर्व महसूस कर रहा है कि इसका बेड़ा अम्बाला छावनी में आया है।

प्रश्न- पहले अंबाला से निकलने वाले बयानों से विपक्ष कांपता था अब पड़ोसी दुश्मन देश कांपेगा?
उत्तर- दुश्मन देशों को कांपना भी चाहिए। पहले अंबाला एयरबेस ने 1965-71 की लड़ाई में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। अब देश की ताकत बहुत ज्यादा बढ़ गई है। हमारे देश की सीमाओं पर जो दुश्मन देश सीमाओं पर छुटपुट हरकतें करते रहते थे। मुझे उम्मीद है कि राफेल के आने से उन्हें होश आएगी।

प्रश्न- चाइना ने एक ओर कमांडर स्तर की बातचीत की बात कही है। इसे क्या मानेंगे, मोदी की नीतियों का असर या राफेल का डर?
उत्तर- यह मोदी जी की नीतियों का और उनकी गर्जना का असर है, उनका डर है, मोदी जी दोस्त के सच्चे दोस्त हैं और दुश्मनों को भी सबक सिखाना जानते हैं। अब दुश्मन देशों को समझ में आ गया होगा कि अपनी सीमा में रहने का फायदा है।

प्रश्न- क्या भारत में चीनी सामान का बहिष्कार संभव है?
उत्तर- लोगों ने चाइना का बहिष्कार दिल से कर दिया है। प्रदेश सरकारों ने चाइनीज कम्पनियों के बड़े-बड़े कान्ट्रैक्ट कैंसल किए हैं। कोरोना का जिम्मेदार चीन आज सीमा पर हमें आंख दिखा रहा है। हमारी सेना चीन की हर हरकत का मुंहतोड़ जवाब देने में सक्षम है।


Shivam

Related News