हौसलों की उड़ान ने फरीदाबाद के लक्ष्य को दिलाया पैरा टेबल टेनिस में स्वर्ण पदक

punjabkesari.in Monday, May 16, 2022 - 11:27 AM (IST)

फरीदाबाद : मंजिलें उन्हीं को मिलती है जिनके सपनों में जान होती है। सिर्फ पंखों से कुछ नहीं होता, दोस्तों हौसलों से उड़ान होती है। किसी कवि की यह पंतियां फरीदाबाद के नन्हें पैरा टेबल टेनिस खिलाड़ी लक्ष्य गुप्ता पर सटिक बैठती हैं। हाल ही में उन्होंने मध्यप्रदेश के इंदौर में 27 से 30 अप्रैल 2022 तक आयोजित हुई पैरा टेबल टेनिस राष्ट्रीय चैम्पियनशिप 2021 में मेन सिंगल इवैंट में स्वर्ण पदक जीतकर फरीदाबाद का नाम पूरे देश में रोशन किया है। यह प्रतियोगिता भारतीय टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया की ओर से आयोजित की गई थी। 

इस प्रतियोगिता में लक्ष्य सबसे छोटा विजेता बना जिसकी उम्र मात्र साढ़े 14 साल थी। अब नन्हें लक्ष्य का उददेश्य अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले कॉमनवेल्थ गैम और ओलम्पिक में भारत को पदक दिलाने का है। हालांकि लक्ष्य का चयन 6 से 10 सितम्बर 2022 में फिनलैंड में और 31 सितम्बर से 5 अक्टूबर तक ग्रीस में आयोजित होने वाले अन्तर्राष्ट्रीय खेलों के लिए हुआ है। अब देखना यह होगा कि इस खिलाड़ी के हौंसलें को आगे बढ़ाने में राज्य सरकार किस तरह आर्थिक सहायता करती है। 

लक्ष्य की मां निशा गुप्ता बेटे के स्वर्ण पदक जितने से उत्साहित हैं, उन्होंने बताया कि लक्ष्य जन्म से ही दिव्यांग है और उसके शरीर के दाहिने हाथ व पैर बाल पक्षा घात नामक गंभीर बीमारी के चलते काम नहीं कर पाते। उसके लिए बिना व्हीलचेयर के एक जगह से दूसरी जगह जाना भी संभव नहीं है। लक्ष्य 10वीं कक्षा में पढ़ रहा है, लेकिन वह अपार प्रतिभा का धनी है कि बांये हाथ से ऐसी टेबल टेनिस खेलता है कि उसने अपनी कमजोरी को अपनी ताकत बनाया है। इंदौर में आयोजित पैरा टेबल टेनिस प्रतियोगिता में देश भर से 200 खिलाडिय़ों ने भाग लिया था। जिसमें लक्ष्य  पहले ही प्रयास में अपने प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी को हराकर स्वर्ण पदक विजेता बना।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static