भयंकर बरसात में धरने पर बैठे किसानों प्रति सरकार हुई निष्ठुर : शैलजा

7/30/2021 8:20:21 AM

चंडीगढ़ : हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष कुमारी शैलजा ने कहा कि 3 काले कृषि कानूनों के खिलाफ किसान 8 माह से दिल्ली के बॉर्डरों पर बैठे हैं। इस दौरान किसान हाड कंपाने वाली सर्दी, भयंकर गर्मी में सड़क पर बैठे-बैठे देख चुके हैं। अब किसान लगातार तेज बारिश में डटे हुए हैं। 500 से ज्यादा किसान अपनी जान गंवा चुके हैं लेकिन सरकार को उनकी पीड़ा नजर नहीं आ रही। संवेदनाएं खो चुकी सरकार निष्ठुर होकर अपनी जिद पर अड़ी है।

शैलजा ने कहा कि जब किसान तीनों कानूनों को काले कानून बताते हुए इनसे उन्हें नुक्सान की बात कह रहे हैं तो फिर केंद्र सरकार क्यों जबरन उन्हें इनके फायदे गिनवा रही है? यह सरकार का हठ ही है कि किसानों की बर्बादी का रास्ता इन कानूनों के जरिए निर्धारित कर दिया गया है। केंद्र सरकार सिर्फ अपने पूंजीपति मित्रों को फायदा पहुंचाने की कोशिश में लगे हैं। मंडियों को खत्म कर सिर्फ अपने पूंजीपति मित्रों के हाथ की कठपुतली किसानों को बनाने की कोशिश चल रही है।शैलजा ने कहा कि 3 कृषि कानूनों को पिछले साल पारित किया था। इन्हें पारित करने से पहले न तो किसान संगठनों से सरकार ने चर्चा की और न ही इन कानूनों को लेकर कोई खुली चर्चा कृषि विशेषज्ञों के साथ की। जिस तरीके से ये कानून चुपचाप पास किए गए, उससे किसानों व उनके संगठनों में रोष है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Recommended News

static