प्लॉट में निवेश करना बेहतर विकल्प

punjabkesari.in Saturday, Jul 02, 2022 - 12:39 PM (IST)

गुडग़ांव, ब्यूरो: प्लॉटेड डेवलपमेंट भारत में सबसे हॉट रियल एस्टेट ट्रेंड के रूप में तेजी उभर रहे हैं। मूल रूप से ये प्लॉट घरों, विला, कॉन्डोमिनियम, कार्यालयों, रिटेल जैसे मिश्रित उपयोग के लिए विकसित किया जाता है। यह आधुनिक सुविधाओं के साथ आवश्यक सुविधाओं से सुसज्जित होते हैं।

 

 

पिछले पांच वर्षों में संभावित खरीदारों और मांगों में महत्वपूर्ण वृद्धि के कारण देश के एनसीआर क्षेत्र में विकसित किये गए प्लाटों की संख्या में काफी मात्र में बढ़ी हैं। प्लॉट खरीदार खरीदारों के लिए भी एक किफायती और निवेश का विकल्फ है। इन्ही सब फायदों के कारण घर खरीदार लगातार प्लॉट खरीदने को ज्यादा महत्त्व दे रहे हैं। 2022 की समाप्त होने वाली तिमाही में किए गए एक अन्य अध्ययन ने निष्कर्ष निकाला कि देश के शीर्ष 6 रियल एस्टेट मार्केट में इंटरनेट पर की गई कुल सर्च का 27% इंडिपेंडेंट होम्स के लिए था।

 

बीपीटीपी ग्रुप के वाईस प्रेजिडेंट रोहित मोहन कहते हैं, “महामारी ने पर्सनल और प्रोफेशनल दोनों स्तरों पर काफी बदलाव लेकर आई है जिसका लोगों के ऊपर अभूतपूर्व प्रभाव पड़ा है। इसने काफी हद तक घर के प्रति हमारे नजरिये को बदला है। अब लोग रहने के लिए अधिक स्थान चाहते हैं, ताकि वे थोड़ा खुले वातावरण का अनुभव कर सकें। इसके लिए वे घरों पर अधिक खर्च करने को भी तैयार हैं और यदि यह उनका बजट मे फिट होता है तो वे निश्चित रूप से एक अपार्टमेंट के बजाय प्लॉट का विकल्प चुनेंगे।“

 

रहेजा डेवेलपर्स के नयन रहेजा कहते हैं , "प्लॉट्स के लिए खरीदार की वरीयता में एक बड़ा चैलेंज इसकी कीमत है। प्लॉट्स की मांग में वृद्धि कई महत्वपूर्ण कारकों के कारण हुई है। अपार्टमेंट की तुलना में प्लॉट उपभोक्ताओं को प्रति वर्ग फुट अधिक मूल्य प्रदान करते हैं। इसके साथ ही प्लॉट निवेश पर बेहतर रिटर्न पेश करते हैं। साथ ही प्लॉट्स की 'बिल्ट-टू-सूट' प्रकृति का अर्थ है खरीदार की आवश्यकता के साथ-साथ रहेने के स्थान की सुन्दरता संबंधी दोनों ही मामले में बेहतर अनुकूलन प्रदान करते हैं। तत्काल कब्जा और कम रखरखाव प्लॉट को एक आकर्षक सौदा बनाते हैं। जैसे ही अर्थव्यवस्था और बढ़ेगी, यह प्रवृत्ति भी उसी अनुसार जारी रहेगी और रियल एस्टेट सेक्टर के विकसित प्लॉट की मांग को और बढ़ावा दिखाई देगा।"

 

इस समय इंफ्रास्ट्रक्चर में बदलाव आ रहा है। कनेक्टिविटी में सुधार के साथ मेट्रो शहरों का उपनगरों संपर्क अच्छा हो रहा है और इससे लैंडबैंक खुलने लगे हैं। जबकि अधिकांश रियल एस्टेट कंपनियां अपार्टमेंट परिसरों के साथ आईं हैं ये ऐसे भूखंडों को विकसित कर रहे हैं  हैं जो पहले कभी नहीं था।इनको गेटेड प्लॉटेड डेवलपमेंट कहा जाता है, इसने केंद्रीकृत सुरक्षा, एक गेटेड समुदाय और अन्य सुविधाओं जैसी अधिकांश सुविधाओं की पेशकश की है इसने  प्लॉट वाली परियोजनाओं के लिए एक प्रमुख प्रेरणा के रूप में काम किया।

 

 पुष्पेंद्र सिंह, एमडी, जेएमएस ग्रुप के अनुसार, "गेटेड प्लॉटेड डेवलपमेंट अपार्टमेंट लाइफस्टाइल के फायदों के साथ प्लॉट्स को ज्यादा स्वतंत्र बनता है और प्लॉटेड डेवलपमेंट के लिए लंबे समय से लंबित बाधा को दूर करता है। यह न केवल केंद्रीकृत सुविधाओं के प्रबंधन के लाभ प्रदान करता है बल्कि आधुनिक सुरक्षा प्रबंधन के साथ इसके निवासियों को चिंता मुक्त जीवन जीने में भी मदद करता है।"

 

जो चीज अपार्टमेंट के ऊपर प्लॉट  को बढ़त देती है, वह है इसकी उच्च वृद्धि दर है। हाल के एक अध्ययन में पाया गया है कि पिछले कुछ वर्षों में भूमि के मूल्य में लगभग 20 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई, जबकि अपार्टमेंट की कीमत समान अवधि में लगभग 6 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करते हुए स्थिर रही।

 

एक प्लॉट के मालिक होने का एक अन्य लाभ यह है कि घर को जिस तरह से आप चाहते हैं उसे डिजाइन करने की स्वतंत्रता है। इसके अलावा, अधिकांश शहरों में, कोई भी आसानी से साढ़े तीन मंजिलों का निर्माण कर सकता है, जिसे मालिक किराए पर दे सकता है या स्वतंत्र मंजिलों के रूप में बेच सकता है या स्थानीय नियमों के अधीन व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए उपयोग या किराए पर भी ले सकता है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Gaurav Tiwari

Related News

Recommended News

static