CM मनोहर लाल जल्द देंगे हरियाणावासियों को 100 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात(VIDEO)

punjabkesari.in Tuesday, Mar 08, 2022 - 09:09 AM (IST)

चंडीगढ़( चंद्रशेखर धरणी): सोमवार को सदन ने रघुवीर कादयान निष्कासन मामले को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया। जिसमें उनके निलंबन को वापस ले लिया गया। इस मामले में विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता जानकारी देते हुए बताया कि विधानसभा में धर्मांतरण के बिल की कॉपी रघुबीर कादियान द्वारा फाड़ी गई थी। सदन की मान मर्यादा को बनाए रखने के लिए उन्हें पूरे सत्र के लिए सस्पेंड किया गया था। लेकिन सोमवार को नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा द्वारा उनके निलंबन फैसले को वापस लेने का आग्रह किया। जिस पर विधानसभा स्पीकर ज्ञान चंद गुप्ता ने रघुवीर द्वारा विधानसभा में आकर अपनी गलती पर खेद प्रकट करने के बाद ही उनसे कोई फैसला वापिस लेने की बात कही।

रघुबीर कादियान आज सोमवार को विधानसभा पहुंचे और अपनी गलती की माफी मांगी। जिस पर सदन ने एक प्रस्ताव पारित किया और निलंबन को वापस लेने का फैसला किया। गुप्ता ने कहा कि सदन में स्वच्छ बहस  विपक्ष का अधिकार है लेकिन स्पीकर की जिम्मेदारी मिलने के पहले दिन से सदन के अनुशासन- संयम और मान मर्यादा को बरकरार रखने की सोच रही है। लोकतंत्र में सदन की गरिमा सर्वोपरि है। जिससे किसी भी लेवल पर समझौता नहीं किया जा सकता। सभी सम्मानीय विधायकों से हमेशा निवेदन करता रहता हूं कि वह इस में मेरा सहयोग करें।

गुप्ता ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री वित्त मंत्री मनोहर लाल मंगलवार को सदन में बजट पेश करेंगे। बजट पेश होने के बाद इस पर चर्चा के लिए आउटस्टैंडिंग कमेटियां बनाई जाएंगी। जिसके लिए मुख्यमंत्री की तरफ से बजट पर चर्चा के लिए पर्याप्त समय दिया जाने का प्रस्ताव आएगा। उसके पश्चात इन कमेटियों का गठन होगा। जिसमें प्रति कमेटी 9 सदस्य शामिल होंगे। यह समय रिसेस पीरियड के रूप में 4 दिन का समय रहेगा। इन 4 दिनों में कमेटियों के सदस्य विभिन्न सब्जेक्ट्स -विभागों को लेकर अपने चर्चा के बाद अपने सुझाव दे पाएंगे।

पंचकूला को बनाना चाहते हैं टूरिस्ट हब : गुप्ता
बता दे ज्ञान चंद गुप्ता पंचकूला से विधायक हैं और उनके कार्यकाल में पंचकूला विकास की दृष्टि में सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाला जिला है। उनके विधानसभा क्षेत्र को लेकर उन्हें बजट से क्या उम्मीदें हैं, इस पर भी चर्चा हुई। जिसमें उन्होंने कहा कि पंचकूला के लिए विकास की वह योजनाएं जो क्रियान्वयन के लिए बाकी है जैसे नर्सिंग कॉलेज, मेडिकल कॉलेज, यूनिवर्सिटी की स्थापना, फिल्म सिटी, एसजीसीटी, मेडिसिटी इत्यादि की जो योजनाएं विचाराधीन है, इन्हें लागू करने के लिए मुख्यमंत्री द्वारा अलग से एक कमेटी का गठन किया हुआ है, उनकी जल्द से जल्द शुरुआत हो सके, इसके लिए हमारा प्रयास रहेगा।

गुप्ता ने बताया कि बहुत जल्द करीब 100 करोड रुपए के विकास कार्यों का शिलान्यास और उद्घाटन मुख्यमंत्री के कर कमलों से होगा। पंचकूला के लिए और क्या किया जा सकता है, इस पर लगातार हम विचार करते रहते हैं। हाल ही में 32 की लागत से बनने वाले सेक्टर 9 के रेलवे ओवरब्रिज, सेक्टर 19 रेलवे अंडरपास, 70 करोड़ की लागत से हरियाणा रोडवेज का वर्कशॉप, 150 करोड़ की लागत से नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी, जिसकी बिल्डिंग बन चुकी है, इनका उद्घाटन प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा किया जाना है। 

गुप्ता ने बताया कि पंचकूला में सात मंजिला स्टेट लेवल का म्यूजियम जिसके बाद प्रदेश का लगभग पूरा संग्रहालय एक छत के नीचे आ जाएगा। मोरनी हिल्स को एडवेंचर, वॉटर स्पोर्ट्स देकर टूरिज्म का हब बनाने के लिए हम प्रयासरत हैं। ट्रैकिंग पाथ बनाए जा रहे हैं। हमने क्षेत्र के विकास को लेकर स्टे होम पॉलिसी भी लागू की है। हम बरवाला के विकास को लेकर भी प्रयासरत हैं।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static