दिल्ली की तर्ज पर हरियाणा में भी बनेगी ई.वी. पॉलिसी, एन.सी.आर. पर रहेगा खास फोकस

8/10/2020 9:34:02 AM

चंडीगढ़ (अविनाश पांडेय) : दिल्ली सरकार की तर्ज पर अब हरियाणा में भी इलैक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी बनाने की कवायद चल रही है। सरकार का मानना है कि इलैक्ट्रिक व्हीकल से जहां प्रदूषण नहीं होगा, वहीं डीजल और पैट्रोल के वाहनों की अपेक्षा सफर भी सस्ता होगा। परिवहन विभाग के आलाधिकारी इस पॉलिसी पर माथापच्ची कर चुके हैं। अब इस पॉलिसी को फाइनल टच दिया जा रहा है।

बताया गया है कि इस पॉलिसी का नोडल विभाग बनाने को लेकर परिवहन और अक्षय ऊर्जा विभाग के बीच रस्साकशी चल रही है, लेकिन मुख्यमंत्री ने परिवहन विभाग को ही नोडल विभाग बनाने की हरी झंडी दे दी है। पहले चरण में एन.सी.आर. के जिलों में इलैक्ट्रिक बसें चलाने पर विचार किया जा रहा है, ताकि वहां प्रदूषण की समस्या से निजात पाई जा सकी। वैसे भी सुप्रीम कोर्ट और एन.जी.टी. की ओर से पहले ही हरियाणा सहित अन्य राज्यों को प्रदूषण मुक्त करने के आदेश जारी किए जा चुके हैं।

इलैक्ट्रिक बसों को लेकर निजी कंपनी से चल रही बातचीत 
हरियाणा में इलैक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी बनते ही करीब 100 इलैक्ट्रिक बसें चलाने का मसौदा तैयार किया गया है। इसके लिए एक निजी कंपनी से बातचीत चल रही है। बताया गया है कि पी.पी.पी. मोड पर भी यह प्रयोग किया जा सकता है। वहीं अलग से भी इलैक्ट्रिक बसें खरीदने को लेकर पहल की गई है। कहा गया है कि अगले कुछ महीनों में इलैक्ट्रिक बसों की पहली खेप आ सकती है।

एन.सी.आर. के फरीदाबाद और गुरुग्राम में जल्द दिखेंगी इलैक्ट्रिक बसें 
सरकार की योजना के तहत पहले चरण में इलैक्ट्रिक बसें चलाने की योजना एन.सी.आर. के फरीदाबाद और गुरुग्राम में तैयार की गई है। बताया गया है कि पहली खेप में गुरुग्राम के लिए करीब 50 बसों का मसौदा तैयार हो चुका है, जिसके टैंडर की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। गुरुग्राम में तीन चाॄजग स्टेशन बनाए जा रहे हैं जिनकी देखरेख गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जी.एम.डी.एम.) कर रहा है। वहीं फरीदाबाद में भी एफ.एम.डी.ए. की ओर से चाॄजग स्टेशन बनाने की कवायद चल रही है।

टूरिज्म कॉम्पलैक्स में बनेंगे चार्जिंग स्टेशन 
इलैक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी तैयार करने से पहले ही सरकार ने जी.टी. रोड सहित सभी हरियाणा पर्यटन निगम के कॉम्पलैक्सों में चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना तैयार कर ली है। बताया गया है कि जी.टी. रोड के दो टूरिज्म होटलों में चार्जिंग स्टेशन बनाने का काम चल रहा है। भविष्य में इस पॉलिसी को सिरे चढ़ाने के लिए सभी टूरिज्म कॉम्पलैक्सों में चार्जिंग स्टेशन बनाए जाएंगे।

प्रदूषण खत्म करने के लिए इलैक्ट्रिक वाहन समय की जरुरत: महाजन
पर्यावरण प्रेमी राहुल महाजन ने कहा कि मौजूदा समय में प्रदूषण की समस्या से निजात पाने के लिए इलैक्ट्रिक वाहन समय की जरूरत हैं। सभी सरकारों को इसके लिए आगे आकर नीति बनानी चाहिए और ज्यादा से ज्यादा इलैक्ट्रिक पब्लिक ट्रांसपोर्ट होना चाहिए। यदि शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सुविधा बेहतर हो जाए तो आम लोग दोपहिया व चौपहिया वाहनों का उपयोग कम करेंगे तथा उससे प्रदूषण की मात्रा भी कम होगी। वहीं महाजन ने इलैक्ट्रिक बसों से होने वाले नुक्सान को लेकर कहा कि इलैक्ट्रिक वाहनों से प्रदूषण तो खत्म होगा, लेकिन भविष्य में इन वाहनों की बैटरियां भी पर्यावरण के लिए मुसीबत बनेंगी। उन्होंने कहा कि बैटरियों को नष्ट करना एक चुनौती होगी, जो कहीं न कहीं प्रदूषण के रूप में सामने आएगी।

दिल्ली की तरह प्रदेश में भी निजी वाहनों के लिए छूट का होगा प्रावधान 
दिल्ली की केजरीवाल सरकार की तरह हरियाणा में बनने वाली इलैक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी में निजी वाहनों को लेकर कुछ छूट का मसौदा तैयार किया जा सकता है। दिल्ली सरकार ने अपनी पॉलिसी में दोपहिया, ई-रिक्शा और ऑटोरिक्शा खरीदने के लिए करीब 30 हजार रुपए तथा कार के लिए 1.5 लाख रुपए की छूट का प्रावधान रखा है। इसी तरह से हरियाणा सरकार भी आम जनता को इलैक्ट्रिक वाहनों की तरफ लुभाने के लिए छूट का प्रावधान तैयार करने पर मंथन कर रही है।


Edited By

Manisha rana

Related News