कृषि कानूनों के 1 साल पूरा होने पर किसानों ने मनाया क्रांति दिवस, प्रदेशभर में जलाई कानूनों की प्रतियां

punjabkesari.in Saturday, Jun 05, 2021 - 03:05 PM (IST)

ब्यूरो: सयुक्त किसान मोर्चा आह्वाहन पर आज तीनों कृषि कानूनों को एक साल पूरा होने पर आज प्रदेश भर में क्रांति दिवस मनाया गया। इसी कड़ी में आज भारतीय किसान एकता के बैनर तले किसानों ने  तीनों कृषि कानूनों की प्रतियां जला आकर अपना रोष प्रकट किया। आज प्रदेश भर में प्रदर्शन किए जा रहे है।

अंबाला(अमन)
अंबाला में इनैलो ने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रकाश भारती की अगुवाई में तीनों कृषि कानूनों की प्रतियां जलाकर व केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया प्रकाश भारती ने बताया कि अगर जल्द सरकार इन कानूनों को वापिस नही लेती तो इनैलो प्रदेशभर में बड़ा आंदोलन करने जा रही है।  वहीं किसान इकठा होकर गृह मंत्री अनिल विज के आवास पर पहुंचे । किसानों ने सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए गृह मंत्री अनिल विज के आवास के बाहर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई । इस दौरान किसानों के पहुंचने से पहले ही भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी गई थी ओर पुलिस ने बेरिकेड्स कर इलाके की नाकेबंदी की ।

सिरसा(सतनाम)
आज भारतीय किसान एकता के बैनर तले किसानों ने सिरसा की सांसद सुनीता दुग्गल के  आवास के समक्ष रोष प्रदर्शन किया और तीनों कृषि कानूनों की प्रतियां जला आकर अपना रोष प्रकट किया। इस  से पूर्व किसान शहीद भगत सिंह स्टेडियम में एकत्रित हुए और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एक जलूस की शक्ल में सांसद  के आवास पर पहुंचे। किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन द्वारा भारी पुलिस फाॅर्स तैनात किया गया। इसके साथ ही किसान चौक पर बने जननायक जनता पार्टी के कार्यालय का घेराव किया और हरियाणा सरकार के साथ साथ डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला और कैबिनेट मंत्री रणजीत सिंह चौटाला के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

PunjabKesari
यमुनानगर(सुमित)
जगाधरी में संयुक्त किसान मोर्चा ने शिक्षा मंत्री कवँरपाल गुर्जर के निवास के बाहर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई और सरकार और शिक्षा मंत्री के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।किसान नेता ने कहा कि आज के दिन इन कानूनों के अध्यादेश लाये थे इसलिए आज के दिन हम इनका विरोध कर रहे है।

PunjabKesari
इंद्री(मेनपाल)
भारतीय किसान यूनियन व किसानों ने तीन काले कानूनों को लेकर अपना विरोध दर्ज कराया किसान पहले सिंचाई विभाग के रेस्ट हाउस पर इकट्ठे हुए और उसके पश्चात  खट्टर, मोदी किसान विरोधी के नारे लगाते हुए विधायक के निवास पर पहुंचे। पुलिस पहले से ही अपनी पूरी तैयारियों के साथ वहां पर मौजूद थी । विधायक के निवास से पहले ही पुलिस द्वारा बड़े-बड़े बैरिकेड लगाए गए थे कि किसान आगे ना पढ़ पाए। अंत में किसानों ने शांतिपूर्ण तरीके से अपना प्रदर्शन किया। पुलिस की मौजूदगी में विधायक राम कुमार कश्यप के निवास के सामने तीनों काले कानूनों की प्रतियां जलाई व किसानों ने भाजपा, जेजेपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

सोनपीत(पवन राठी)
सैकड़ों की संख्या में आज किसान एकत्रित हुए और सोनीपत के सांसद रमेश कौशिक व विधायक निर्मल चौधरी के निवास स्थान के बाहर कृषि कानूनों की प्रतियां जलाई।किसानों का कहना है कि जल्द से जल्द तीनों कृषि कानूनों को रद्द किया जाए वरना इसी तरह विरोध जारी रहेगा

PunjabKesari
चरखी दादरी (नरेन्द्र)
चरखी दादरी संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर तीन कृषि कानूनों को रद्द करवाने की मांग को लेकर किसान संगठन वह इलाके की खाप वह अन्य संगठन चरखी दादरी में इकट्ठा होकर बाढ़डा से जेजेपी विधायिका नैना चौटाला व बीजेपी सांसद धर्मवीर सिंह के निवास स्थानों पर प्रदर्शन कर तीन कृषि कानूनों की पत्तियों को फूंका। 

करनाल(विकास)
कृषि कानूनों को लेकर किसानों की तरफ से हरियाण के सीएम , डिप्टी सीएम के पुतले की शव यात्रा निकालकर फूंका गया, वहीं तीन कृषि कानूनों की प्रतियां भी जलाई गई। ये कार्यक्रम उसी के पास किया गया जहां सीएम मनोहर लाल खट्टर ने सुबह पौधारोपण करके कई परियोजनाओं का शिलान्यास औऱ उद्घाटन किया था।

PunjabKesari

गोहाना (सुनील)
गोहाना में किसान व सामाजिक संगठनों ने एसडीएम कार्यालय के बाहर तीनो कृषि कानूनों की प्रतियां जला कर अपना विरोध प्रदर्शन किया।वहीं साथ मे भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्यवान नरवाल ने सरकार से तीनो कृषि कानूनों की वापिस करने की मांग की साथ चेतावनी दी अगर ये तीनो कृषि कानून सरकार वापिस नहीं करती है तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ेंगे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static