कृषि कानून किसानों के हक में है और विपक्ष इन्हें लेकर महज राजनीति कर रहा है : बनवारी लाल

10/19/2020 1:09:52 PM

चंडीगढ़ (चन्द्र शेखर धरणी) : हरियाणा के सहकारिता मंत्री बनवारी लाल ने कहा है कि विपरीत परिस्थितियों के अंदर भी सरकार ने कोविड से जिस तरह से लड़ाई लड़ी। इस दौरान हर तरह की व्यवस्थाओं को मुख्यमंत्री ने काफी सराहनीय काम किया। कृषि कानून किसानों के हक में है और विपक्ष इन्हें लेकर महज राजनीति कर रहा है। हमारा सहकारिता विभाग किसानों से जुड़ा हुआ विभाग है इसमें हमने जो वन टाइम सेटेलमेंट की स्कीम शुरू की उसे किसानों को काफी लाभ हुआ जबकि जो किसान डिफॉल्टर थे वह अपना पैसा जमा करके रेगुलर लाइन में आ गए। इसी प्रकार वीटा ने विपरीत परिस्थियों में दूध, दहीं घी और लस्सी जैसी वस्तुओं की सप्लाई की। अब हम वीटा में हल्दी दूध भी तैयार करने जा रहे है। इसी तरह हम देसी गाय का घी भी बनाने जा रहे है, जो जनवरी 2021 तक लांच कर दिया जाएगा। प्रस्तुत है एक्सक्लुसिव बातचीत के प्रमुख अंश--

प्रश्न : बनवारी लाल जी मनोहर पार्ट 2 सरकार की 1 साल की वह कौन सी उपलब्धियां हैं जो आप लोगों को बताना चाहेंगे?
बनवारी लाल :
 कहने को तो सरकार को बने 1 साल हो गया है लेकिन 6 महीने तो कोरोना काल में ही बीत गए। इसलिए जिस गति से सरकार कार्य करना चाहती थी उस गति से कार्य नहीं हो पाए। लेकिन विपरीत परिस्थियों के अंदर भी सरकार ने कोविड से ल जिस तरह से लड़ाई लड़ी है और इस दौरान हर तरह की व्यवस्थाओं को मुख्यमंत्री ने काफी सराहनीय काम किया है।चाहे किसी को राशन की जरूरत हो,या प्रवासी मजदूरों को लेकर व्यवस्था हो,सरकार ने हर व्यवस्था को अच्छे ढंग से संभाला है।

प्रश्न : आपका सहकारिता विभाग काफी विस्तृत विभाग है इसके तहत हैफेड सहित और भी कई संस्थाएं आती हैं इस 1 साल के दौरान सहकारिता विभाग में आपने किस प्रकार से नई-नई चुनौतियों को स्वीकार किया और क्या नए कार्य किये?
बनवारी लाल : 
हमारा सहकारिता विभाग किसानों से जुड़ा हुआ विभाग है इसमें हमने जो वन टाइम सेटेलमेंट की स्कीम शुरू की उसे किसानों को काफी लाभ हुआ जबकि जो किसान डिफॉल्टर थे वह अपना पैसा जमा करके रेगुलर लाइन में आ गए। इसी प्रकार वीटा ने विपरीत परिस्थियों में दूध, दहीं घी और लस्सी जैसी वस्तुओं की सप्लाई की। अब हम वीटा में हल्दी दूध भी तैयार करने जा रहे है। इसी तरह हम देसी गाय का घी भी बनाने जा रह है ,जो जनवरी 2021 तक लांच कर दिया जाएगा।

प्रश्न : वीटा की बात की जाए तो इस बार दूध का उत्पादन कम हुआ है यां ज्यादा हुआ है?
बनवारी लाल : 
दूध की कलेक्शन इस बार अधिक हुई है। उसका कारण यह है कि दूध उत्पादक कोविड की वजह से दूसरी एजेंसीज को दूध नहीं बेच पाए। जो हमारे वीटा की मिल्क सोसाइटी के पास आये। जिसकी वजह से इस सीजन में दूध की दोगुनी कलेक्शन हुई है।

प्रश्न : इसके अलावा जिस तरह से आढ़तियों के चंगुल से किसानों को निकालने का प्रोविजन जो सरकार करने जा रही है। ऐसी भी चर्चाएं है कि डेढ़ लाख से तीन लाख क्रॉप लोन होने जा रहा है। उसकी क्या स्थिति है?
बनवारी लाल : 
यह प्रक्रिया लगभग अंतिम चरण में है और जल्दी ही इसका लाभ किसानों को मिलेगा।जो तीन लाख का क्रॉप लोन होगा उसमे गारंटी ली जाएगी जबकि किसानों को यह लोन बिना व्याज के दिया जाएगा। इसी तरह एक किसान पशुधन क्रेडिट कार्ड भी शुरू किया है।उसके अंदर भी 1लाख 60हजार तक लोन बिना गारंटी मिलेगा। जबकज 1लाख 60हजार के बाद अगर तीन लाख का लोन लेते है तो उसके लिए गारंटी देनी पड़ेगी। जिस तरह से प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर अभियान की शुरुआत की है।उसके अंदर किसान गाय, बैंस,बकरी जो भी पाले।उसके जरिये वह आत्मनिर्भर होकर अपनी आजीविका चला सकता है।

प्रश्न : सहकारिता की सहभागिता कैसे बड़ाई जाएगी?
बनवारी लाल : 
हमे डेयरी पर ज्यादा ध्यान देना होगा क्योंकि हमारा देश ज्यादा पशुओं पर निर्भर है। इसलिए हम यह चाहेंगे कि किसानों को अधिक से अधिक लोन देकर प्रोत्साहित करें तांकि वे अधिक से अधिक पशु पालें और उनके दूध से अपनी इनकम बढ़ाएं।

प्रश्न : एक तरफ आप किसानों को प्रोत्साहन की बात कर रहे है, दूसरी तरफ तीन कृषि कानून है जिन्हें लेकर कांग्रेस और इनेलो सड़कों पर है?
बनवारी लाल : 
विपक्ष का काम तो विरोध करना है। जिस तरह से यह तीन कृषि कानून बने वह किसान के फायदे में है इन से किसानों को एक ऑप्शन मिल गया है कि वह अपनी फसल को मंडी में बेचे या बाहर बेचे। जबकि अगर किसान बाहर अपनी फसल बेचता है तो उसको कोई मंडी फीस नहीं देनी पड़ेगी। इस तरह से किसानों को इसका फायदा है। जबकि आढ़तियों को भी मुख्यमंत्री ने कहा है कि अगर किसान के पैसे सीधा उसके खाते में जाएं तो इसका किसान को फायदा होगा। इसलिए यह कृषि कानून किसानों के हक में है और विपक्ष इन्हें लेकर महज राजनीति कर रहा है। विपक्ष के पास कोई मुद्दा नही है तो वह किसानों को गुमराह कर रहा है। धीरे-धीरे जब किसानो की समझ में आएगा तो यह मुद्दा खत्म हो जाएगा।

प्रश्न : आपका संबंध दक्षिण हरियाणा से अहीरवाल बेल्ट से है। अगर उसका जिक्र किया जाए तो एक वर्ष में ऐसा क्या है जो मनोहर सरकार पार्ट 2 ने दक्षिण हरियाणा के लिए किया हो?
बनवारी लाल : 
भारतीय जनता पार्टी की पहले की सरकारों ने दक्षिण हरियाणा के विकास के लिए कोई कार्य नहीं किए जबकि आज दक्षिण हरियाणा मे बिजली, पानी ,स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में सभी विभागों में सराहनीय कार्य हुए है।

 


Manisha rana

Related News