कैथल के बर्खास्त सीएमओ को हरियाणा सरकार ने किया बहाल, इस जिले में दी नियुक्ति

10/24/2020 6:08:55 PM

कैथल (महिपाल): कैथल में सीएमओ के पद पर पूर्व में कार्यरत डॉ. जयभगवान और कैथल के विधायक लीलाराम गुर्जर के बीच हुए विवाद के बाद बर्खास्त हुए डॉ. जयभगवान को हरियाणा सरकार ने बहाल कर दिया है। बहाली के बाद सरकार ने जयभगवान को सोनीपत के सामान्य अस्पताल में पीएमओ का पद दिया है। यह पद पहले से खाली चल रहा था।

PunjabKesari, Haryana

लिंग जांच की छानबीन से उठा था मामला
कैथल के विधायक व पूर्व सीएमओ डॉ. जयभगवान के बीच विवाद का बीज बीती 20 सितंबर को पड़ा। जब स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शहर के आर्य डायग्नोस्टिक सेंटर पर लिंग जांच की सूचना पर छापेमारी की। यहां 40 हजार रूपये लेकर जयपुर की एक महिला की भ्रूण लिंग जांच की गई थी। जांच में लड़का बताया गया, जिसके बाद महिला एक्साइटमेंट में दोबारा टेस्ट करवाने आ गई। इसी दौरान डॉ. गौरव पुनिया की टीम ने छापा मारकर डायग्नोस्टिक सेंटर को सील कर दिया और डॉ. विजय कुमार आर्य, दलाल और जयपुर की महिला पर केस दर्ज किया गया। इस मामले में विधायक लीलाराम गुर्जर पर आरोप लगा कि गुर्जर ने आर्य डायग्नोस्टिक सेंटर पर रेड करने गई टीम पर दबाव बनाते हुए तुरंत प्रभाव से प्रस्थान को कहा था। टीम ने उसके बाद भी रेड जारी रखी तो विधायक ने इसके गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी थी।
 

सीएमओ के सस्पेंड होने के बाद ऑडियो हुआ वायरल 
29 सितंबर को कैथल विधायक लीलाराम ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज को पत्र लिखकर सिविल सर्जन डा. जयभगवान को सस्पेंड करवा दिया। 7 अक्टूबर को सिविल सर्जन को सस्पेंड कर दिया गया। इसके बाद 12 अक्टूबर को इस मामले में नया मोड़ देने वाले दो ऑडियो क्लिप वायरल हुए। इनमें से एक में खुद विधायक लीलाराम को सीएमओ डॉक्टर जय भगवान जाटान को कार्रवाई नहीं करने को कह रहे हैं। दूसरे ऑडियो में विधायक का पीए जिनका नाम रामकुमार बताया जा रहा है, कार्रवाई नहीं करने की बात कह रहा है। हालांकि विधायक लीला राम ऑडियो में उनकी आवाज होने के दावे को सीधे तौर पर नकार दिया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Shivam

Related News

Recommended News

static