HTET EXAM: अभ्यर्थियों की राह में सड़क जाम बना रोड़ा, समय पर नहीं पहुंच पाए सैंकड़ों विद्यार्थी

11/18/2019 5:50:19 PM

सोनीपत(स.ह.): रविवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच एच.टैट. की परीक्षा शांतिपूर्वक ढंग से समाप्त हो गई। सुबह के समय लैवल 2 के लिए जहां शहर में 27 परीक्षा केन्द्र स्थापित किए गए थे, वहीं शाम के समय लेवल वन के लिए 24 परीक्षा केन्द्र स्थापित किए गए थे परन्तु शनिवार के बाद रविवार को भी परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचने में परीक्षाॢथयों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। शहर में लगे जाम की वजह से सैंकड़ों की संख्या परीक्षार्थी समय पर परीक्षा केन्द्र पर नहीं पहुंच पाए जिसके चलते उन्हें निराश ही लौटना पड़ा। दरअसल, सुबह के सत्र में परीक्षा देने के लिए परीक्षार्थी सुबह करीब 7 बजे से ही परीक्षा केंद्रों पर पहुंचना शुरू हो गए थे। 

सुबह के सत्र का पेपर खत्म होने के बाद परीक्षा केंद्रों के बाहर जाम की स्थिति पैदा हो गई। विभिन्न मार्गों पर बनी जाम की स्थिति के चलते सायंकालीन सत्र में परीक्षा देने पहुंचने वाले परीक्षाॢथयों को जाम की समस्या से जूझना पड़ा। दोनों ही सत्रों में सुरक्षा कड़ी की गई थी, एंट्री टाइम के बाद आने वाले किसी भी परीक्षार्थी को परीक्षा केंद्र में जाने नहीं दिया गया जिस कारण अनेक परीक्षार्थी परीक्षा देने से वंचित रह गए। दोनों सत्रों में 15 हजार 516 परीक्षाॢथयों में से करीब 1800 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। लैवल.2 टी.जी.टी. की परीक्षा में 8 हजार 238 परीक्षाॢथयों में से 7238 परीक्षार्थी ही परीक्षा देने पहुंचे, एक हजार परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। जबकि लैवल 1 पीआरटी के लिए 24 परीक्षा केंद्रों पर 7284 परीक्षाॢथयों में से करीब 800 विद्यार्थी परीक्षा केन्द्र पर नहीं पहुंच पाए। 

सी.सी.टी.वी. से रखी गई अभ्यर्थियों पर नजर 
एच.टेट परीक्षा को लेकर सभी परीक्षा केंद्रों पर सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए थे। सभी परीक्षा केंद्रों पर सी.सी.टी.वी व जैमर की व्यवस्था की गई थी। परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के बाद परीक्षाॢथयों के रोल नंबर डॉक्यूमैंट वैरिफि केशन के बाद वीडियोग्राफी की गई। इस प्रक्रिया को देखते हुए ही परीक्षाॢथयों को परीक्षा शुरू होने से एक घंटा पहले परीक्षा केंद्र में दाखिल होने की अनुमति दी गई थी, ताकि इस समय में सभी परीक्षाॢथयों के रोल नंबर व आई.डी पू्रफ  की जांच की जा सके। परीक्षा केंद्रों के 200 मीटर के दायरे में धारा 144 लागू की गई थी। 

नियमों के प्रति जागरूकता रही कम
परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी अपने साथ किसी भी प्रकार का सामान अंदर नहीं ले जा सकते थे, वहीं महिलाओं को भी गहने तक पहनने की छूट नहीं है। बावजूद इसके परीक्षा देने पहुंचने वाले अधिकतर परीक्षाॢथयों में जागरुकता का अभाव नजर आया। जांच के दौरान सुरक्षा कर्मियों ने परीक्षाॢथयों को हाथ में पहनी अंगूठी, कलाई पर बंधे धागे, बेल्ट, नाक की नथनी व कानों की बालियों को उतारने की हिदायतें दी गई। जिसके बाद परीक्षार्थी बाहर ही ये सामान उतारते नजर आए। 

जिले में रविवार को एच.टेट लेवल-2 व लैवल-1 की परीक्षा आयोजित की गई। लेवल-2 के लिए 27 व लैवल-1 के लिए 24 परीक्षा केंद्र बनाए गए थे। सभी परीक्षा केंद्रों पर शांतिपूर्ण तरीके से परीक्षा संपन्न हुई है। 
    -कुलदीप दहिया जिला शिक्षा अधिकारी, सोनीपत। 


Edited By

vinod kumar

Related News