भारत विश्व के चुनिंदा उन देशों में शामिल हुआ है जिनमें 5जी की सुविधा उपलब्ध: डॉक्टर अमित अग्रवाल

punjabkesari.in Sunday, Oct 02, 2022 - 02:36 PM (IST)

चंडीगढ़(चन्द्रशेखर धरणी): अश्विन नवरात्र के शुभ अवसर पर मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव एवं सूचना जनसंपर्क- भाषा विभाग के महानिदेशक वरिष्ठ आईएएस डॉ अमित अग्रवाल रविवार को अपनी धर्मपत्नी सोनल अग्रवाल के साथ माता मनसा देवी मंदिर पंचकूला पहुंचे। जहां उन्होंने मां के चरणों में शीश नवाते हुए पूजा अर्चना व हवन यज्ञ किया। उन्होंने बताया कि बेहद स्वच्छ और प्रसन्नचित्त विचारों से इस पावन अवसर पर दर्शन करने का मौका मिला है। पूरे राज्य की सुख समृद्धि के लिए मंगलकामना की है। पूरे प्रदेश के नागरिकों का जीवन सुखमय हो, माता के चरणों में इसकी प्रार्थना की है।

मुख्यमंत्री द्वारा चंडी माता मंदिर और कालका मंदिर को भी श्राइन बोर्ड के तहत लेने की घोषणा की गई थी, ताकि इस मंदिर का भी और अधिक सौन्दर्यकरण किया जा सके और अपने स्तर पर अच्छी योजनाएं लाकर आने वाले लाखों श्रद्धालुओं के लिए अच्छी व्यवस्थाओं का प्रबंध किया जा सके। उन्होंने माता मनसा देवी की व्यवस्थाओं की तारीफ करते हुए श्राइन बोर्ड और संबंधित प्रशासनिक अधिकारियों की भी तारीफ की।

नए डिजिटल युग में 5जी सुविधा देश के युवाओं के लिए करेगी नया आयाम स्थापित  : अग्रवाल


इस मौके पर अमित अग्रवाल ने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अहमदाबाद में 5जी लॉन्चिंग को नए डिजिटल युग की शुरुआत बताते हुए कहा कि भारत विश्व के चुनिंदा उन देशों में शामिल हुआ है जिनमें 5जी की सुविधा उपलब्ध है और जिस कारण वह लगातार उन्नति के पथ पर अग्रसर हैं। भारत भी लगातार अपनी क्षमता को बढ़ा रहा है। जिसमें 5जी की सुविधा से देश को बड़ा लाभ होने वाला है। डाटा कनेक्टिविटी की इंप्रूवमेंट देश की उन्नति में बेहद लाभप्रद साबित होगी। प्रदेश सरकार द्वारा लगातार नागरिकों की सुविधाओं को भ्रष्टाचार मुक्त आसान और समय पर देने के लक्ष्य पर है। जिसमें आईटी का प्रयोग लगातार बढ़ाया जा रहा है। इस सर्विस को इंप्रूव करना समय की जरूरत है, जिसमें 5जी एक बड़ी मददगार सुविधा साबित होने जा रही है। इससे प्रदेश के युवा अच्छा लाभ उठा पाएंगे और लगातार हमारा देश आगे कदम बढ़ाएगा।

PunjabKesari

बता दें कि प्रदेश के प्रति समर्पित भावना, लगन और उनकी कार्यशैली से आए सार्थक परिणामों के कारण ही अग्रवाल मुख्यमंत्री मनोहर लाल की विश्वसनीय टीम का अहम हिस्सा बने हुए हैं। मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव रहे राजेश खुल्लर के प्रतिनियुक्ति पर अमेरिका जाने के बाद मुख्यमंत्री की विश्वसनीय टीम का हिस्सा कौन कौन बनेंगे इस पर सभी की निगाह थी। इस टीम के गठन में जहां पहले से प्रिन्सिपल ओएसडी नीरज दफतुयार की अहम भूमिका रही। वहीं सरकार में टीम में चीफ प्रिन्सिपल सैक्टरी का पद गठित कर सेवानिवृत्ति के बाद दीपेंद्र ढेसी की नियुक्ति हुई। वी उमाशंकर को प्रिन्सिपल सैक्टरी मुख्यमंत्री हरियाणा का बनाया गया। अग्रवाल पर मुख्यमंत्री द्वारा जताया गया इतना बड़ा विश्वास उनकी मेहनतकश विचारधारा लगन और उनके कार्यों की तारीफों और परिणामों को देखते हुए डॉ अमित अग्रवाल को मुख्यमंत्री मनोहर लाल की विश्वसनीय टीम में जगह मिल पाई थी।हरियाणा सरकार में आईएएस अमित कुमार अग्रवाल की गिनती पावरफुल अधिकारियों में होती है। अग्रवाल को मुख्यमंत्री मनोहर लाल के अतिरिक्त प्रधान सचिव-1, हरियाणा जन संपर्क एवं भाषा विभाग के डायरेक्टर जरनल जैसे महत्वपूर्ण पदों की जिम्मेदारी मिली हुई है।

अमित राज्यपाल के सचिव, आबकारी एवं कराधान विभाग के आयुक्त व शहरी स्थानीय निकाय विभाग के निदेशक का जिम्मा भी संभाल चुके हैं। उनकी कार्यशैली हमेशा से ब्यूरोक्रेसी में चर्चा का विषय नहीं है। बेहद मिलनसार व्यक्तित्व और मधुरभाषी होने के कारण सत्ता पक्ष से संबंधित राजनीतिज्ञ भी हमेशा उनसे प्रभावित रहे, जिसका लाभ भी उन्हें समय-समय पर मिला है। संबंधित विभाग में अविश्वसनीय सुधार उनके समय में देखने को मिले। गुरुग्राम में असिस्टेंट कमिश्नर, हिसार में एस डी एम, पानीपत में एडीसी, फरीदाबाद में हूड्डा के बाद वह यमुनानगर, हिसार, पलवल, रोहतक  फरीदाबाद में उपायुक्त की जिम्मेदारी भी बखूबी निभा चुके हैं।


मूल रूप से जयपुर निवासी डाॅ अमित कुमार अग्रवाल ने जयपुर के ही एसएमएस मेडिकल काॅलेज से एमबीबीएस की। लेकिन देश की सेवा के जज्बे ने उन्हें आईएएस के लिए प्रेरित किया और इस सपने को साकार करने के लिए उन्होंने कभी किसी भी तरह से चिकित्सक की भूमिका नहीं निभाई। कंप्यूटर इंजीनियर धर्मपत्नी सोनल और बच्चे सान्वी- अद्वित भी उन्हें अपना प्रेरणादायक मानते हैं। कोरोना काल के दौरान जब पूरा देश अस्त व्यस्त था और अपने व अपने परिवार के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित था उस दौरान डॉ अग्रवाल की कार्यशैली की सराहना मुख्यमंत्री द्वारा भी करते देखी गई। देश के बहुचर्चित मिर्चपुर कांड के दौरान उपायुक्त हिसार की जिम्मेदारी संभालने हर किसी के बूते की बात नहीं थी, लेकिन बड़ी चुनौतियों का सामना हमेशा बड़े फैसलों से करने वाले अग्रवाल ने उस माहौल को संभालकर अपनी एक अमिट छाप छोड़ी।

पर्यटन के दृष्टिकोण से हिसार के गूजरी महल में बडाली बर्दर्ज का कार्यक्रम लोगों को जोड़ने के नजरिए से आयोजित करवाया। विश्व पटल पर राखी गढ़ी का आना भी इनकी मूल रूपरेखा के कारण संभव हुआ। फोटोग्राफी के शौकीन अग्रवाल का मानना है कि अंग्रेजी शासनकाल में कलेक्टर यानि लगान वसूल करने  वाला मुख्याधिकारी  लेकिन स्वतंत्र भारत में विचारधारा, सोच और बड़ी जिम्मेदारी जनसेवा की होनी चाहिए और मैं सौभाग्यशाली मानता हूं कि परमपिता परमात्मा ने मुझे यह अवसर दिया और हमेशा इस सोच से आगे बढ़ता रहूंगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static