महाराजा अग्रसेन के समाजवाद, अहिंसा, गरीब कल्याण हो स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल: राजीव जैन

punjabkesari.in Saturday, Jun 25, 2022 - 06:34 PM (IST)

चंडीगढ़ (धरणी) : महाराजा अग्रसेन की जीवनी पाठ्यक्रम में शामिल करने की मांग को लेकर हरियाणा प्रदेश वैश्य महासम्मेलन की जिला इकाईयों ने पूरे प्रदेश में जिला उपायुक्तों के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। पाठ्यक्रम में शामिल होने से महाराज अग्रसेन की समाजवाद अहिंसा, गरीब कल्याण व उत्थान की योजनाएं तथा स्वच्छ राजनीति के सिद्धांत जन-जन तक पहुंचेंगे।

महासम्मेलन के प्रदेश अध्यक्ष राजीव जैन ने बताया कि शुक्रवार को अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, कैथल, सोनीपत, रेवाड़ी, पलवल, झज्जर, हांसी, हिसार में सौंपे गए ज्ञापन में मुख्यमंत्री मनोहर लाल का इस बात के लिए धन्यवाद किया गया कि सरकार ने महाराजा अग्रसेन के सर्वमान्य सिद्धांतों को ध्यान में रखते हुए ही हिसार एयरपोर्ट का नाम महाराजा अग्रसेन के नाम पर रखा है तथा इंदिरा गांधी विश्वविद्यालय मीरपुर में शोध पीठ की स्थापना की है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार महाराजा अग्रसेन की जीवनी को पाठ्यक्रम में शामिल कर चुकी है, इसलिए हरियाणा को भी जल्द से जल्द निर्णय करना चाहिए।

राजीव जैन ने कहा है कि 2014 तक प्रदेश में पांचवी कक्षा के पाठ्यक्रम में महाराजा अग्रसेन की जीवनी को शामिल कर रखा था,परंतु बाद में पता नहीं किस कारण हटा दिया गया। उन्होंने कहा कि शोध पीठ के माध्यम से महाराज अग्रसेन की नीतियों को लेकर जो शोध सामग्री तैयार होगा, उन्हें पाठ्यक्रम के माध्यम से ही युवा पीढ़ी तक पहुंचाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि वैश्य समाज के मंचों से कई बार यह आवाज उठ चुकी हैं, परंतु आश्वासनों के बाद अभी तक सकारात्मक निर्णय नहीं लिया गया है।

हरियाणा प्रदेश वैश्य महासम्मेलन के अध्यक्ष राजीव जैन ने कहा कि जल्द ही इस संबंध में वैश्य समाज का प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री, शिक्षामंत्री, स्पीकर विधानसभा ज्ञान चंद गुप्ता, मंत्री कमल गुप्ता तथा सभी विधायकों से मिलेगा। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ी तो समाज की बैठकें करके जन जागरण अभियान भी चलाया जाएगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static