यह वक्त राजनीति करने का नहीं बल्कि साथ मिलकर कोरोना के खिलाफ लड़ने का है: गंगवा

punjabkesari.in Friday, Apr 30, 2021 - 07:31 PM (IST)

चंडीगढ़ (धरणी): कोरोना की पिछली लहर में बड़ी संख्या में विधानसभा सदस्य और कर्मचारी संक्रमित हुए थे, जिसके चलते इस बार पूरी तरह से विधानसभा की गठित सभी कमेटियों की बैठकों पर रोक लगा दी गई है। इस दौरान प्रदेश के सभी विधायक अपने विधानसभा क्षेत्र में लोगों की आवश्यकतानुसार सहायता करेंगे। इस प्रकार के निर्देश भारतीय जनता पार्टी द्वारा दिए गए हैं। 

इस बारे में जानकारी के लिए पंजाब केसरी ने हरियाणा विधानसभा के उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा से विशेष बातचीत की। जिसमें उन्होंने न केवल सत्ता पक्ष के विधायक बल्कि विपक्ष के बीच सभी जनप्रतिनिधियों से सहयोग की अपील की। उन्होंने कहा कि आज के हालात राजनीति करने के नहीं बल्कि जनता की सेवा करने के हैं। आज सभी डॉक्टर, प्रशासनिक लोग और संस्थाएं जनता की सेवा कर रहे हैं। कोरोना विकराल रूप धारण किए हुए है। बड़ी संख्या में केस प्रतिदिन आ रहे हैं। इस समय को देखते हुए सभी को एकजुट होकर इस लड़ाई के खिलाफ लडऩा चाहिए। विधानसभा की कमेटियों की बैठकों पर एक माह तक रोक लगा दी गई है। आगामी हालातों को देखते हुए आगामी फैसला लिया जाएगा।

गंगवा ने बताया कि सरकार द्वारा संसाधनों का उपयोग करके ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है। मुख्यमंत्री महोदय खुद इसकी मॉनीटरिंग कर रहे हैं। आज प्रदेश क्या कोई भी जिला ऐसा नहीं जहां ऑक्सीजन मौजूद नहीं है। हिसार में सोनी बर्न अस्पताल में 5 मौतों का जो मामला सामने आया है। उसके लिए जांच बिठा दी गई है। मौतें किस कारण से हुई यह देख कर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश हैं। लेकिन उस समय हिसार में ऑक्सीजन उपलब्ध थी। सरकार कहीं भी किसी भी प्रकार से कोताही नहीं बरत रही। बहुत सी समाजसेवी संस्थाएं, एनजीओ आगे आकर सहयोग कर रहे हैं। 

गंगवा ने कहा कि प्रदेश की जनता की समस्याओं को दूर करने के लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह से प्रबंध करने में लगी है। प्राइवेट अस्पतालों में पहले 25 फ़ीसदी बेड कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित रखने के निर्देश थे, जिन्हें बढ़ाकर 50 फ़ीसदी कर दिया गया है। साथ ही साथ डीआरडीओ के सहयोग से हिसार में 500 बैड और पानीपत में भी 500 बेड का अस्पताल बनाने का काम शुरू हो चुका है। हरियाणा में दिल्ली से आ रहे मरीजों का उपचार भी प्रदेश सरकार द्वारा किया जा रहा है।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static