तीन परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करने पर राष्ट्रपति ने की हरियाणा सरकार की तारीफ

punjabkesari.in Tuesday, Nov 29, 2022 - 11:36 PM (IST)

चंडीगढ़(चंद्रशेखर धरणी): भारत की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने मंगलवार को कुरुक्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव का शुभारंभ करते हुए हरियाणा सरकार के विकास कार्यों की जमकर प्रशंसा की। उन्होंने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में आयोजित अंतरराष्ट्रीय गीता संगोष्ठी का शुभारंभ किया और भगवान श्रीकृष्ण का धन्यवाद किया कि हरियाणा में बतौर राष्ट्रपति उनकी पहली यात्रा का आरंभ धर्मक्षेत्र-कुरुक्षेत्र से हो रहा है। उन्होंने कहा कि इस पावन गीता जयंती महोत्सव के अवसर पर उन्हें आनंद की अनुभूति हो रही है।

       

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने मंगलवार को कुरुक्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय गीता जयंती महोत्सव का शुभारंभ किया। इस मौके पर सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग द्वारा बनाई गई हरियाणा की तीन विकास परियोजनाओं पर आधारित लघु फिल्म भी दिखाई गई। इसके साथ ही राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय द्वारा तैयार की गई स्मारिका गीता विशेषांक का विमोचन किया और राष्ट्रपति को पहली प्रति भेंट की। संगोष्ठी में  राष्ट्रपति ने निरोग योजना का शुभारंभ किया और कुरुक्षेत्र निवासी 60 वर्षीय नसीब सिंह एवं 3 वर्षीय के मोक्ष को निरोगी योजना कार्ड प्रदान किया। राष्ट्रपति महोदया ने ई-टिकटिंग व नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड का भी शुभारंभ किया और प्रधान सचिव नवदीप सिंह वर्क ने पहली ई-टिकट व मोबिलिटी कार्ड राष्ट्रपति को सौंपा।इस अवसर पर बोलते हुए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि कुरुक्षेत्र की भूमि पावन भूमि है।

इसी सरस्वती के तट पर वेद और पुराणों को लिपिबद्ध किया गया। महाभारत में कुरुक्षेत्र के इस क्षेत्र की तुलना स्वर्ग से की गई है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी और लोकमान्य तिलक ने भी पवित्र ग्रंथ गीता से मार्गदर्शन प्राप्त किया था। यह बड़े हर्ष का विषय है कि हरियाणा की मनोहर लाल सरकार ने वर्ष 2016 से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गीता जयंती महोत्सव को मनाने का निर्णय लिया। इस वर्ष महोत्सव में पार्टनर देश नेपाल और पार्टनर राज्य मध्यप्रदेश हैं। उन्हें बड़ी खुशी है कि देश ही नहीं विदेशों से भी लोग इस भव्य आयोजन में पहुंचे हैं। इसके लिए हरियाणा सरकार, मुख्यमंत्री मनोहर लाल व उनकी पूरी टीम बधाई की पात्र है।      

 

  (हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Ajay Kumar Sharma

Related News

Recommended News

static