संयुक्त किसान मोर्चा हरियाणा की बैठक- किसान-मजदूरों को लामबंद करने का निर्णय

punjabkesari.in Sunday, Nov 07, 2021 - 12:09 AM (IST)

नारनौंद (हरकेष): संयुक्त किसान मोर्चा हरियाणा की बैठक आज नारनौंद के दादा देवराज धर्मशाला में किसान नेता सुरेश कोथ की अध्यक्षता में हुई। बैठक में किसान आंदोलन का एक साल पूरा होने पर 26 नवंबर को किए जाने वाले बड़े कार्यक्रमों पर विचार विमर्श किया गया, जिसमें विभिन्न किसान संगठनों ने भाग लिया। बैठक में किसान नेता सुरेश कौथ, अभिमन्यु कोहाड़,  इंद्रजीत सिंह, सुखदेव जम्मू, जोगैंद्र नैन, रवि आजाद, विकास सीसर, लखविंदर सिंह, सुमित, गुरुप्रेम, जिया लाल, संदीप सिवाच, आदि शामिल रहे।

बैठक के बाद जानकारी देते हुए सुरेश कोथ ने बताया कि बार्डरों पर हजारों की संख्या में किसान-मजदूरों को लामबंद करने का निर्णय लिया गया। उन्होंने बताया कि आंदोलन को नई बुलंदियों पर ले जाने संबंधी ‌कार्ययोजना के प्रस्ताव संयुक्त किसान मोर्चा की आगामी 9 नवंबर को सिंघु बार्डर पर होने वाली राष्ट्रीय बैठक में रखे जाएंगे। उन्होंने बताया कि संयुक्त किसान मोर्चा ने निर्णय लिया है कि कीड़े व बारिश से बर्बाद फसलों के मुआवजे के लिए सभी जिलों में आंदोलन किया जाएगा। इसका ठोस स्वरुप संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में तय होगा।

कोथ ने बताया कि बैठक में रोहतक के भाजपा सांसद अरविंद शर्मा द्वारा की गई भड़काऊ बयानबाजी की कड़ी निंदा करते हुए मांग की गई कि उन पर सामाजिक सद्भाव बिगाडऩे और हिंसा फैलाने का मुकदमा दर्ज किया जाए। वहीं 8 नवंबर को नारनौंद प्रकरण को लेकर हांसी पुलिस अधीक्षक कार्यालय के घेराव में संयुक्त किसान मोर्चा के सभी संगठन पूरे प्रदेश से लोगों को लामबंद करेंगे और इसमें संयुक्त किसान मोर्चा के राष्ट्रीय नेता भी आएंगे।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static