मेरे इस्तीफा देने से रद्द नहीं होंगे कानून : ईश्वर सिंह

2/24/2021 3:27:31 PM

गुहला-चीका : 3 कृषि कानूनों को रद्द करवाने की मांग को लेकर हलका विधायक ईश्वर सिंह का विरोध किए जाने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए हलका विधायक ईश्वर सिंह ने कहा कि वह भी एक किसान है और 25-30 एकड़ भूमि पर फसल पैदा करते हैं। उन्होंने कहा कि मेरी पूरी संवेदनाएं किसानों के साथ है और किसानों को अपनी बात रखने का मौलिक अधिकार है। अपनी मांगों को लिए किसानों को विरोध प्रदर्शन करने का भी इस देश में संविधानिक हक है लेकिन उसका तरीका सही होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि किसी धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होने पर किसी का विरोध करना उसके मौलिक अधिकारों का हनन है। ईश्वर सिंह आज यहां अपने निवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए उस बात का जवाब दे रहे थे जिस पर उनसे यह पूछा गया कि किसानों के कहने पर आप इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे। ईश्वर सिंह का कहना था कि वह किसी विवाद में नहीं पडऩा चाहते लेकिन कृषि कानून केंद्र सरकार ने बनाए है और केंद्र सरकार ही उसे रद्द कर सकती है। मैं तो विधानसभा का सदस्य हूं विधानसभा इन कानूनों को रद्द नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि अभय सिंह चौटाला ने अपनी विधायकी से इस्तीफा दे दिया तो क्या कानून रद्द हो गए। उन्होंने कहा कि यदि कोई कहता है कि उनकी बात नहीं सुनी तो मैं उनकी बात पूरी तरह सुनने के लिए तैयार हूं और जहां भी कहें मैं आकर सुनने के लिए तैयार हूं।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


Content Writer

Manisha rana

Related News