विज के दरबार में सुरजेवाला के खिलाफ शिकायत, नई SIT गठित करने के आदेश(VIDEO)

12/7/2019 8:54:01 PM

अंबाला(अमन कपूर): हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज के जनता दरबार में शनिवार कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुरजेवाला के खिलाफ शिकायत पहुंची। शिकायतकर्ता ने विज को सुरजेवाला के खिलाफ आरटीआई से जुटाए दस्तावेज दिए। जिस पर विज ने डीजीपी हरियाणा को उच्च अधिकारियों की एक एसआईटी बना मामले की जांच के आदेश दे डाले और कहा कि सुरजेवाला को बुला कर मामले की जांच की जाए। 

सुरजेवाला के खिलाफ दी गई शिकायत में शिकायतकर्ता ने बताया कि रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पावर मिनिस्टर रहते हुए अपने किसी साथी के साथ उनकी हिस्सेदारी करवाई और फिर उन्हें बिजली बोर्ड के टेंडर दिलवाए थे, जबकि उनकी कंपनी कोई भी कंडीशन पूरी नहीं करती थी। शिकायतकर्ता ने बताया कि बिना नियमों को पूरा किए उनकी कंपनी को सुरजेवाला ने कई टेंडर दिलवाए, इसकी शिकायत उन्होंने मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दी। 

जिसके बाद पीएमओ ने इस मामले में इसकी जांच स्टेट विजिलेंस ब्यूरो को दे दी, लेकिन स्टेट विजिलेंस ब्यूरो के अधिकारियों ने मामले की जांच में मिलीभगत की और हमपर कार्रवाई कर दी और सुरजेवाला को जांच में शामिल किए बिना क्लीन चिट दे दी। शिकायतकर्ता ने आरटीआई से सभी दस्तावेज लेकर अनिल विज के हवाले किए हैं। साथ ही शिकायत भी दी है कि इस मामले की जांच उच्च एजेंसी से करवाई जाए ताकि असली दोषियों को सजा मिल सके। शिकायतकर्ता को उम्मीद है कि विज उन्हें इंसाफ जरूर देंगे।

हरियाणा के दबंग मंत्री अनिल विज अपनी कार्यशैली के लिए मशहूर हैं, विज ने शिकायत मिलते ही तुरंत एक्शन लिया और झट से मामले की जांच के लिए डीजीपी को आदेश दे दिए। विज की माने तो उन्हें पूरे दस्तावेज मिल गए हैं और शिकायतकर्ता के अनुसार इस मामले में सुरजेवाला ने अपने प्रभाव का दुष्प्रचार करते हुए उन्हें ठेका दिलवा दिया था। इस मामले में विजिलेंस जांच चल रही है लेकिन अभी तक एक बार भी विजिलेंस की एसाईटी बने सुरजेवाला को जांच के लिए नहीं बुलाया।

विज ने मामले में डीजीपी हरियाणा को तुरंत एक नई एसआईटी बनाने के आदेश दिए हैं और साथ ही उन्हें यह भी कहा गया है कि सुरजेवाला को बुला कर उनसे भी पूछताछ की जाए। विज से जांच को गलत दिशा देने वाले अधिकारियों पर के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया।


Shivam

Related News