आढ़ती से फिरौती मांगने का मामला, नौकर के पोते ने दोस्त के साथ मिलकर रचा था षड्यंत्र

10/6/2020 11:04:06 AM

पानीपत: बाबरपुर मंडी के आढ़ती से 2 करोड़ की फिरौती मांगने व फिरौती न देने पर उसके बेटे व पोते को जान से मारने की धमकी देने का पर्दाफाश करते हुए सी.आई.ए.-वन पुलिस टीम ने 2 आरोपियों को काबू किया है। दोनों आरोपियों को सोमवार को अदालत में पेश कर 1 दिन के रिमांड पर लिया गया। पूछताछ में सामने आया कि आढ़ती के पास नौकरी करने वाले व्यक्ति के पोते ने शार्टकट तरीके से अमीर बनने के लिए दोस्त के साथ मिलकर व्यापारी को धमकी भरी चिट्ठी लिखकर 2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी थी।

उप-पुलिस अधीक्षक मुख्यालय सतीश कुमार वत्स ने बताया कि बाबरपुर निवासी आढ़ती श्रीचंद ने 1 अक्तूबर को एस.पी. को उनके कार्यालय में शिकायत दे बताया था कि वह बाबरपुर मंडी में आढ़ती है। 14 सितम्बर को उसके गोदाम पर एक धमकी भरी चि_ी मिली जिसमें 2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी गई। जिसके न देने पर उसके बेटे व पोते का अपहरण करने व दोनों को जान से मारने की धमकी दी गई। इसके पश्चात 23 सितम्बर को दूसरी चि_ी खेत में बने कोठड़े के पास मिली जबकि तीसरी चि_ी 1 अक्तूबर को खेत में जाने वाले रास्ते पर मिली। एस.पी. ने व्यापारी के परिवार की सुरक्षा व आरोपियों की पहचान करने व उनको जल्द काबू करने की जिम्मेदारी सी.आई.-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल सिंह को सौंपी।

डी.एस.पी. ने बताया कि राजपाल सिंह ने व्यापारी की सुरक्षा करने के साथ ही आरोपियों की पहचान करने हेतु विभिन्न स्थानों पर टीम का जाल बिछाया। टीम को देर शाम सूचना मिली कि व्यापारी से फिरौती मांगने वाले दोनों आरोपी बाबरपुर पुल के नीचे खड़े हैं। टीम ने दोनों को मौके पर काबू कर प्रारंभिक पूछताछ की तो उन्होंने अपनी पहचान आकाश पुत्र सूरजभान निवासी कचरौली जिला पानीपत व विकास पुत्र सोमपाल निवासी पबाना जिला करनाल के रूप में बताई। गहनता से पूछताछ करने पर आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकार कर लिया।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Recommended News

static