कृषि कानून वापस होने तक अभय को नहीं लड़ना चाहिए चुनाव: रणजीत चौटाला

punjabkesari.in Friday, Oct 08, 2021 - 08:18 PM (IST)

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा सरकार में निर्दलीय कोटे से मंत्री चौधरी रणजीत सिंह ने कहा है कि भाजपा-जजपा गठबंधन के प्रत्याशी गोविंद कांडा पैराशूट उम्मीदवार नहीं हैं। वह सिरसा के ही रहने वाले हैं और पहले भी सिरसा जिला के रानियां से चुनाव लड़ चुके हैं। आज यहां पत्रकारों से बातचीत में रणजीत सिंह ने कहा कि गोविंद कांडा ऐलनाबाद के लोगों की समस्याओं को बेहतर तरीके से समझते हैं। निर्दलीय विधायक जीतने के बावजूद वह सरकार को समर्थन करते हैं और इस चुनाव में गोविंद कांडा के लिए प्रचार करेंगे।

रणजीत सिंह ने दावा किया कि उनके सभी समर्थक गोविंद कांडा के साथ प्रचार में जुट गए हैं। उन्होंने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी सत्ता में है। ऐसे में ऐलनाबाद की जनता बेहद समझदारी से काम लेते हुए इस चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को विजयी बनाएगी। रणजीत सिंह ने किसानों द्वारा किए जा रहे विरोध को राजनीतिक करार देते हुए कहा कि एक राजनीतिक दल अपने हितों की पूर्ति के लिए यह सब करवा रहा है। इस तरह के विरोध पहले से मैनेज होते हैं।

इनेलो प्रत्याशी अभय चौटाला पर कटाक्ष करते हुए रणजीत सिंह ने कहा कि उन्होंने तीन कृषि कानूनों के वापस नहीं होने पर इस्तीफा देकर जानबूझकर ऐलनाबाद के लोगों पर एक चुनाव थोपा था। तीनों कृषि कानून आज भी वापस नहीं हुए हैं। ऐसे में अभय चौटाला को चुनाव नहीं लडऩा चाहिए।

उन्होंने कहा कि वह तथा ओम प्रकाश चौटाला आपस में भाई हैं, इस नाते से अभय चौटाला उनका भतीजा है। निजी रिश्ते में उसके लिए हमेशा दरवाजे खुले हैं लेकिन राजनीतिक रूप से वह उसका विरोध करेंगे। रणजीत सिंह ने स्वीकार किया कि सिरसा के इलाके में एक नहीं बल्कि कई डेरों का प्रभाव है। ऐसे में समय आने पर फैसला लिया जाएगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static