जानवरों ने खेत में काम कर रहे मजदूरों पर किया हमला, 1 मजदूर हुआ घायल

punjabkesari.in Wednesday, Nov 24, 2021 - 06:36 PM (IST)

ऐलनाबाद (सुरेंद्र सरदाना) : खंड के गांव मिठनपुरा के खेतों में काम कर रहे मजदूरों पर अज्ञात जानवरों ने हमला कर दिया। जिससे एक मजदूर बुरी तरह से घायल हो गया और घायल अवस्था में मजदूर को इलाज के लिए ऐलनाबाद के नागरिक अस्पताल में लाया गया। जहां उसे लगी चोट पर मरहम पट्टी कर टांके भी लगाए गए।

घायल मजदूर की बात मानें तो उसने बताया कि खंड के गांव मिठनपुरा के खेतों में पिछले लंबे समय से अज्ञात जानवर, जो उनकी पहचान के अनुसार जंगली सूअर लगते है। यह जानवर गत दिनों से किसानों की फसलों को लगातार नुक्सान पहुंचा रहे हैं। मजदूर ने बताया कि आज किसान हरिसिंह भांभू के खेत में 15 से 20 की संख्या में मजदूर जो कपास की चुगाई व अन्य काम कर रहे थे कि अचानक जंगली सुअरों के झुंड ने मजदूरों पर हमला कर दिया।

बताया जा रहा है कि हमलावर जानवर पांच से छह की संख्या में थे, जिनमें एक जानवर ने काम कर रहे मजदूर मजदूर पप्पू को गंभीर रूप से घायल कर दिया। जैसे ही जंगली जानवरों ने हमला किया तो किसानों में अफरा तफरी मच गई और शोर-शराबे की आवाज सुनकर किसानों ने भागकर पपू को अज्ञात जानवर से छुड़वाया और प्राथमिक उपचार के लिए ऐलनाबाद नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया जहां डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसे छुट्टी भी दे दी।

किसान हरि सिंह भांभू ने प्रशासन से मांग करते हुए कहा कि क्षेत्र में लगातार बढ़ रहे जंगली जानवरों के आंतक से किसानों को निजात दिलाई जाए। किसान ने कहा कि इन जंगली सुअरों के भय से वहां रह रहे लोगों में भय व्याप्त हो गया है। लोगों में यह भी डर है कि ऐसे जंगली जानवर रात को सोए हुए लोगों पर भी हमला कर सकते है, जिसके चलते किसी भी बड़ी अनहोनी से इनकार नहीं किया जा सकता। इसके अलावा बच्चे भी स्कूल पढ़ने जाते है जो कि उनके लिए भी ऐसे जानवर एक बहुत बड़ा खतरा बने हुए है। इसके साथ उन्होंने बताया कि आज से पहले तो जंगली जानवरों ने उनके खेत की फसलों का नुकसान किया था, लेकिन आज़ मजदूरों पर हुए हमले ने उनकी चैन को उड़ा दिया है और प्रशासन से मांग की है कि इन जंगली जानवरों को पकड़ा जाए, ताकि उनके साथ कोई घटना न घट जाए। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static