यूट्यूब पर चैनल बनाकर लोगों को सट्टे का नंबर देने वाला गिरफ्तार

6/16/2021 11:36:10 PM

सिरसा (सतनाम सिंह): गुप्तचर विभाग ने नाथूसरी चौपटा क्षेत्र में ऐसे व्यक्ति का भंडाफोड़ किया है जो यूट्यूब पर चैनल बनाकर लोगों को सट्टे का नंबर देता था और उनसे कमीशन के रुपये वसूलता था। पुलिस जांच में सामने आया है कि आरोपित पहले गांव में गैस वेल्डिंग की दुकान करता था परंतु छह महीनों से उसने दुकान बंद कर दी और घर पर ही रह रहा है। उसने एक पुरानी सेंट्रो कार भी खरीद ली और अपने पुराने मकान के स्थान पर 10-12 लाख रुपये खर्च कर नया मकान भी बना लिया। पुलिस ने आरोपित सतबीर निवासी नाथूसरी कलां के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जानकारी मुताबिक, आरोपित सतबीर ने यूट्यूब पर आल गेम बादशाह राधे राधे व आल गेम बादशाह 2 के नाम से दो चैनल बनाए हुए थे। जिन पर वह रोजाना वीडियो डालकर लोगों को अगले दिन आने वाले सट्टे का नंबर बताता था। आल गेम बादशाह चैनल को करीब सात हजार लोगों ने व आल गेम बादशाह 2 को करीब सेकड़ों लोगों ने फॉलो किया है। इसके साथ ही आरोपित सतबीर ने अपने मोबाइल पर चार वाटसअप ग्रुप बनाए हुए हैं, जिन पर सभी में सट्टा लगाने वालों को जोड़ा गया है। जिन लोगों का सट्टे का नंबर लगता वे उसे कमीशन के तौर पर रुपये देते थे। रुपयों का लेन देने पेटीएम व गूगल पे के माध्यम से होता था।

इस मामले में छानबीन करते हुए पुलिस उपाधीक्षक डबवाली ने जांच की। जांच के दौरान आरोपित सतबीर, उसके बेटे अमित, भाई दलीप कुमार व एक अन्य नेकीराम के बयान लिए गए। जांच में पाया गया कि आरोपित ने करीब एक साल पहले आल गेम बादशाह के नाम से चैनल बनाया था। जिसे कुछ दिनों पहले ही बंद किया है। इस चैनल के माध्यम से रुपयों का ऑनलाइन होने की भी बात स्वीकारी है परंतु अपने बेटे अमित की कोई संलिप्तता न होने की बात कही है।

डबवाली के डीएसपी कुलदीप सिंह ने बताया कि यू ट्यूब चैनल बनाकर सट्टे का नंबर देने के मामले में नाथूसरी कलां निवासी सतबीर सिंह नामक व्यक्ति के खिलाफ नाथूसरी चोपटा थाना में मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।
 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Shivam

Related News

Recommended News

static