हरियाणा बिजली वितरण निगम के 6 अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ केस दर्ज: बिजली मंत्री

8/1/2020 2:30:28 AM

चंडीगढ़ (धरणी): हरियाणा के बिजली एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह ने बताया कि फरीदाबाद जिला में जो व्यक्ति बिजली चोरी करके अवैध रूप से उत्तरप्रदेश के 45 फार्म-हाऊसों को बिजली सप्लाई कर रहा था, उसके खिलाफ केस दर्ज कर एक करोड़ 4 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया है। इस मामले में संलिप्तता के आरोप में दक्षिणी हरियाणा बिजली वितरण निगम के 6 अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है।

हरियाणा के बिजली एवं जेल मंत्री रणजीत सिंह ने बताया कि जब निगम अधिकारियों को सूचना मिली कि हरियाणा के साथ लगते उत्तरप्रदेश की सीमा में कुछ फार्म-हाऊस बिजली चोरी कर रहे हैं तो निगम के एक्सईएन शमशेर सिंह के नेतृत्व में तुरंत एक टीम बनाकर 16 जुलाई 2020 को यमुना नदी क्षेत्र के खेड़ी कलां सब-डिवीजन में रेड की गई। टीम ने जांच में पाया कि फरीदाबाद जिला के प्रदीप त्यागी नाम के व्यक्ति ने बिजली का कनैक्शन लिया हुआ है जो साथ लगते उत्तरप्रदेश के 45 फार्म-हाऊसों को अंडरग्राऊंड तार ले जाकर अवैध रूप से बिजली सप्लाई कर रहा था। इस मामले में प्रदीप त्यागी पर एक करोड़ 4 लाख रूपए का जुर्माना किया गया है।

उन्होंने आगे बताया कि विभागीय जांच में यह भी पाया कि यह गैर-कानूनी काम निगम के ही कुछ अधिकारियों व कर्मचारियों की कथित मिलीभगत से चल रहा था, इसलिए फरीदाबाद जिला के भुपानी थाना में आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि जिन लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है उनमें पूर्व में उस क्षेत्र में कार्यरत रहे एसडीओ संदीप कुंडु व जेई निशांत रोहिल्ला, वर्तमान जेई जितेंद्र सिंह, आऊटसोर्स पॉलिसी के तहत निगम में कार्यरत एएलएम देवी राम और कन्हैया लाल शामिल हैं।

जेल मंत्री ने एक अन्य जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा पुलिस की क्राइम ब्रांच ने जेल में नशीला पदार्थ सप्लाई करने के आरोप में गुरूग्राम जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट धर्मबीर सिंह व एक अन्य व्यक्ति रवि ऊर्फ गोल्डी को गिरफ्तार किया है। उनके पास 225 ग्राम नशीला पदार्थ व 11 सिम कार्ड बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट धर्मबीर सिंह उक्त चीजें जेल में सप्लाई करता था।


Shivam

Related News