प्रॉपर्टी हथियाने के लिए ससुर की हत्या के आरोप में बहू गिरफ्तार, प्रेमी अभी भी फरार (VIDEO)

punjabkesari.in Friday, Jan 28, 2022 - 11:02 AM (IST)

फरीदाबाद (ब्यूरो) : बल्लभगढ़ की न्यू फ्रैंड्स कालोनी में छह दिन पहले हुए बुजुर्ग की हत्या का राज खुल गया। बुजुर्ग की बहू ने प्रॉपर्टी नाम नहीं करने के चलते अपने ससुर की हत्या करवा दी थी। ससुर की हत्या करवाने के लिए बहू ने अपने प्रेमी का भी सहारा लिया था। क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने कार्रवाई करते हुए इस मामले में आरोपी बहू को बदरपुर बॉर्डर एरिया से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी महिला को अदालत में पेश करके एक दिन की रिमांड पर लिया गया है। गिरफ्तार की गई आरोपित महिला का नाम गीता है जो मृतक भरत सिंह की पुत्रवधू है।

आरोपित महिला के खिलाफ थाना सिटी बल्लभगढ़ में हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था।  जिसमें आरोपित महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने ससुर भरत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी। हत्या के पीछे का कारण प्रॉपर्टी विवाद था। मृतक भरत सिंह आरोपित महिला गीता के पति विनोद का सौतेला बाप था। भरत सिंह का बेटा सूरज पिछले साल ट्रेन दुर्घटना में जान कहां बैठा था उसके पश्चात उनकी पुत्रवधू सूरज की पत्नी अपने मायके चली गई इधर विनोद की पत्नी गीता ससुर पर सारी प्रॉपर्टी अपने नाम करने के लिए दबाव डाल रही थी। 

ससुर के नाम थी सारी जायदाद 
सारी जायदाद महिला के ससुर भरत सिंह के नाम है। गीता अपने ससुर भरत सिंह पर प्रॉपर्टी अपने नाम करवाने पर  दबाव बना रही थी परंतु मृतक भरत सिहं द्वारा बार-बार इंकार करने पर पुत्रवधू ने अपने ससुर हो जान से मारने की योजना बनाई। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि इस मामले में आरोपी महिला के साथ उसका प्रेमी दलीप उर्फ सैंडी उर्फ कालिया भी शामिल है जो गुरुग्राम का रहने वाला है और गीता को करीब  सात साल से जानता था और उसके खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत पहले भी कई मुकदमे दर्ज है और वह जेल में भी सजा काट चुका है। गीता ने ही उसकी जमानत करवाई थी।

आरोपित गीता ने कट्टा लाने के लिए अपने प्रेमी को चार हजार रुपए दिए और उसी ने गीता को 2 कारतूस, देसी कट्टा तथा नींद की गोलियां लाकर दी थी। वारदात की रात आरोपित पुत्रवधू ने अपने सास-ससुर दोनों के खाने में नींद की गोलियां दे दी थी। बाद में उस उसने अपने प्रेमी को अपने घर पर बुलाया प्रेमी सैंडी ने गोली मारकर भरत सिंह की हत्या की थी। वारदात को अंजाम देने के पश्चात आरोपित गीता और उसका प्रेमी मौके से फरार हो गए और पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए बदरपुर बॉर्डर एरिया में किराए के कमरे में रहने लगे। 

महिला के कब्जे से बरामद किया गया जिंदा कारतूस 
पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने इस मामले में आरोपियों की धरपकड़ के लिए निर्देश दिए।  जिसके तहत डीसीपी क्राइम के मार्गदर्शन में कार्य करते हुए डीएलएफ क्राइम ब्रांच प्रभारी अनिल कुमार टीम गठित की गई जिसमें अनुसंधान अधिकारी एएसआई विजय टीम ने कार्रवाई करते हुए आरोपित महिला को गिरफ्तार कर लिया। महिला के कब्जे से एक जिंदा कारतूस बरामद किया गया है। गीता ने बताया कि वारदात में प्रयोग किया गया कट्टा उसके साथी के पास है। पूछताछ होने के पश्चात आरोपी महिला को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है वही उसके साथी की धरपकड़ के लिए क्राइम ब्रांच द्वारा लगातार रेड की जा रही है जिसे जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static