रक्षा मंत्री जी ने जल्द ही नर्सिंग होम के लिए फंड प्रोवाइड करने का दिया आश्वासन : ज्ञान चंद गुप्ता

4/14/2021 2:45:00 PM

चंडीगढ़ (धरणी) : पंचकूला के विकास को लेकर देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से चर्चा करके प्रदेश के विधानसभा स्पीकर हाल ही में लौटे हैं। आखिर वह महत्वपूर्ण बिंदु क्या थे आज पंजाब केसरी ने प्रदेश के विधानसभा स्पीकर से इस बारे में बातचीत की। जिसमें उन्होंने बताया कि 2 साल पहले हरियाणा सरकार ने 10 एकड़ जमीन डिफेंस के अधिकारियों के हैंडोवर किसी एजुकेशनल इंस्टीट्यूट के लिए की थी। काफी कोशिशों के बाद डिफेंस का नर्सिंग कॉलेज वहां पास हो गया। लेकिन 1 साल बीत जाने के बाद भी वह नहीं बन पाया। जिस पर रक्षा अधिकारियों ने फंड न होने ज्ञान चंद गुप्ता की बात कही। इसी फंड को प्रोवाइड करवाने के निवेदन के साथ मै माननीय रक्षा मंत्री जी से मिला। ताकि हमारे यहां के नौजवान और हमारी बेटियों को नर्सिंग की अच्छी शिक्षा मिल सके और आगे रोजगार मिल सके।

माननीय मंत्री जी ने जल्द ही राशि प्रोवाइड करवाने का आश्वासन दिया है। साथ ही हिंदुस्तान मशीन टूल्स की 700 एकड़ जमीन पिछले 10 साल से खाली पड़ी है। एचएमटी यूनिट बंद हो चुका है। इंफ्रास्ट्रक्चर और बिल्डिंग मौजूद है। उसे यूटिलाइज करने के लिए यहां कोई ना कोई डिफेंस का मैन्युफैक्चरिंग यूनिट सेटअप किया जाए। इसके लिए भी मैंने उन से निवेदन किया है। यहां एयर से, रेल से, रोड से बेस्ट कनेक्टिविटी रहेगी। कंटोनमेंट एरिया के साथ लगती यह जमीन है। सिक्योरिटी की दृष्टि से भी बेस्ट लोकेशन है। आईटीबीपी यहां साथ में ही है। टीवीआरएल है। प्लास्टिक का यहां ट्रेनिंग सेंटर है। इस क्षेत्र को डिफेंस एरिया भी हम कहें तो गलत नहीं होगा। बहुत ही सिक्योर एरिया है। साथ ही अगर यहां डिफेंस की मैन्युफैक्चरिंग यूनिट लगती है तो यहां के बेरोजगार नौजवानों को रोजगार मुहैया होगा और यह क्षेत्र के लिए मील का पत्थर साबित होगा। मैन्युफैक्चरिंग प्लांट के लिए रक्षा मंत्री जी ने अधिकारियों से बातचीत करने  की बात कही है।

पंचकूला से विधायक एवं विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया कि विशेष तौर पर पंचकूला का बरवाला का क्षेत्र बहुत बैकवर्ड एरिया है। जिसके कारण समुचित पढ़ाई की व्यवस्था नहीं है। बच्चियां स्कूल तक ही सीमित रह जाती हैं। हालांकि उनकी सरकार ने कुछ कॉलेज जरूर बनवाए हैं। लेकिन नर्सिंग कैरियर बेटियों के लिए बहुत उपयोगी है।  नर्सिंग में जाकर बेटियां अपने खानदान का नाम तो रोशन करेंगे ही, साथ ही इस लाइन का बहुत ज्यादा स्कोप है। जिससे वह प्रदेश की, देश की सेवा कर पाएंगी।

इस मौके पर स्पीकर ने कुछ पुरानी यादें भी पंजाब केसरी से साझा करते हुए कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह जी का आशीर्वाद उन्हें अपने सभी तीनों चुनावों में प्राप्त हुआ। जिससे मुझे चुनाव में बहुत सहायता मिली। गुप्ता ने कहा कि हमें पंचकूला का विकास करना है। इसके लिए सडक़ सम्पर्क मजबूत बनाने के लिए लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि तेजी से काम करते हुए निर्धारित समय सीमा में पूरा करें। रामगढ़ से हिमाचल प्रदेश को जोडऩे वाली सडक़ के लिए भी आवश्यक अनुमति (वन एवं पर्यावरण आदि) जल्द से जल्द लेने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारियों को पंचकूला के सेक्टर 23 में डंपिंग ग्राउंड को 31 दिसम्बर 2021 तक खाली कराने के निर्देश दिए हैं।

गुप्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पंचकूला को मेडिकल हब बनाने के लिए सुविधाएं मुहैया कराते हुए नियम बनाने के भी अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पंचकूला में अच्छी सुविधाओं से युक्त बड़े अस्पताल स्थापित हों, इसके लिए अधिकारी योजना बनाएं। अस्पतालों के लिए अच्छी सडक़ें और पार्किंग की व्यवस्था पर योजना में ही ध्यान देने की बात भी उन्होंने कही। इसके साथ ही पंचकूला में वेलनेस सेंटर और पंचकर्म केंद्र स्थापित किये जाने के लिए योजना बनाकर काम करने को कहा। उन्होंने कहा कि हमें पंचकूला का विकास करना है। छोटी से छोटी व्यवस्था सही करके आगे बढ़ना है। पिंजौर के विकास पर व्यापक चर्चा हुई। यहां बनने वाली फिल्म सिटी के लिए जल्द व्यापक प्लान तैयार करने के मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए जौइनर में फि़ल्म सिटी के विकास के लिए काम करने के साथ ही यहां हवाई पट्टी बनाने की दिशा में भी तेजी से काम करने के निर्देश दिए ताकि भविष्य में यहां से लोग एयर टैक्सी सेवा का लाभ उठा सकें। पिंजौर की मंडी को भी पंचकूला के समग्र विकास की योजना में शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा।

पैरा ग्लाइडिंग और ट्रैकिंग का केंद्र बनेगा मोरनी
ज्ञान चन्द गुप्ता ने कहा कि मोरनी से टिक्कर ताल के बीच पैरा ग्लाइडिंग की जा सकेगी। इस सम्बंध में बैठक में बताया गया कि अभी आसपास के 10 ग्रामीण युवाओं को पैरा ग्लाइडिंग का बेसिक कोर्स कराया गया है और पांच युवाओं ने एडवांस कोर्स कर लिया है। पैराग्लाइडिंग करने वाले मोरनी से फ्लाई करके टिक्कर ताल में लैंड करेंगे। पर्यटकों को कोर्स कर चुके युवा फ्लाई कराने में मदद करेंगे। इसके लिए हरियाणा के लिए नियम तय करने की दिशा में जल्द से जल्द काम करने के निर्देश दिए।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


Content Writer

Manisha rana

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static