पुलिस की लापरवाही से मंत्री व विधायक को बदलना पड़ा रास्ता, सचिवालय के गेट तक पहुंचे PTI टीचर्स

8/5/2020 11:10:32 AM

फरीदाबाद (महावीर) : सैक्टर-12 स्थित लघु सचिवालय में वर्चुअल कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा व विधायक नयनपाल रावत को कार्यक्रम के बाद पुलिस की लापरवाही के चलते बाहर निकलने के लिए अपना रास्ता बदलना पड़ा। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा व पृथला के विधायक नयनपाल रावत मुख्यमंत्री के वर्चुअल कार्यक्रम में हिस्सा लेने सैक्टर-12 पहुंचे थे जहां उनके साथ जिला उपायुक्त यशपाल यादव भी मौजूद रहे। 

कार्यक्रम में विधायक नरेंद्र गुप्ता व सीमा त्रिखा को भी शिरकत करनी थी परंतु चंडीगढ़ में बैठक होने के कारण वे इस कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले सके। पहले से ही निर्धारित कार्यक्रम के बावजूद पुलिस व सी.आई.डी. की लापरवाही के कारण प्रदर्शन कर रहे पी.टी.आई. टीचर लघु सचिवालय के गेट तक पहुंच गए और मंत्री व विधायक की गाड़ी का घेराव करने का प्रयास किया परंतु उससे पहले ही उन्होंने अपना रास्ता बदल लिया। जिससे आक्रोशित होकर निकाले गए पी.टी.आई. टीचर्स ने बाद में जमकर हंगामा किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उन्होंने हरियाणा की भाजपा सरकार व मंत्रियों के साथ-साथ डिप्टी सी.एम. दुष्यंत चौटाला के खिलाफ जमकर हंगामा किया।

एक तरफ बोल रहे थे सी.एम., दूसरी तरफ लग रहे थे मुर्दाबाद के नारे
जिस समय उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला व मुख्यमंत्री मनोहरलाल सरकार की योजनाओं का बखान कर रहे थे, उसी दौरान पी.टी.आई. टीचर्स सरकार, मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री के नाम के मुर्दाबाद के नारे लगा रहे थे। नारे लाउडस्पीकर्स पर लगाए जा रहे थे ताकि कार्यक्रम में मौजूद मंत्री व विधायकों तक उनकी आवाज पहुंच सके लेकिन हैरानी की बात यह है कि उस वक्त भी सी.आई.डी. व पुलिस नींद में नजर आई। प्रदर्शन कर रहे बर्खास्त टीचर्स ने कहा कि यदि मंत्री व विधायक चाहें तो उनकी बात मुख्यमंत्री मान सकते हैं। 


Edited By

Manisha rana

Related News