किसान किसी के कपड़े फाड़ने जैसा व्यवहार नहीं कर सकता: कमल गुप्ता

punjabkesari.in Thursday, Oct 07, 2021 - 12:47 PM (IST)

चंडीगढ़ (धरणी) : हिसार विधायक कमल गुप्ता के साथ किसानों की हुई धक्का-मुक्की और कपड़े फाड़ने की घटना पर कमल गुप्ता से कोई बातचीत में उन्होंने साफ कहा है कि जो अन्नदाता पसीना बहा कर देश के लिए अन्न पैदा करता है, वह किसी के साथ कपड़े फाड़ने जैसा व्यवहार नहीं कर सकता। वह किसान नहीं थे। वह असामाजिक तत्व, गुंडे व बदमाश थे। उस वक्त मेरे साथ मेरा पीए और गनमैन भी मौजूद थे। लगभग 50 लोग हमारे साथ बदतमीजी कर रहे थे।

हम तीनों उनकी बात का जवाब बड़ी दृढ़ता से दे रहे थे। मेरे गनमैन और पीएम इन लोगों को समझाने की बहुत कोशिश की। उनको बहुत रोका। हम घबराए नहीं। लेकिन वह संख्या बहुत अधिक थी। जिन्होंने हमें कई घंटे तक अवैध हिरासत में रखा। जिसमें मुझे चोट तो नहीं आई। लेकिन मेरे कपड़े फाड़ दिए गए। ईश्वर की कृपा रही और ईश्वर ने हौसला दिया। जिस कारण से ही सकुशल हैं। कमल गुप्ता ने बताया कि मैंने कोई एफआईआर दर्ज नहीं करवाई। प्रशासन ने क्या किया ? मुझे नहीं पता और प्रशासन का काम है जो कुछ भी करेगा, वह स्वयं करेगा। लेकिन मैं सभी चेहरों को सामने आने पर आईडेंटिफाई कर सकता हूं।

लेकिन यह तय है कि जिस समय भी कोई हमें तंग करेगा, उस समय के अनुसार हम अपनी शक्ति का भरपूर प्रयोग करेंगे। कोई थप्पड़ मारेगा तो उसे थप्पड़ मारेंगे और कोई हमसे बदतमीजी करेगा हम से संभव हुआ तो हम भी वह काम करेंगे। यह प्रकृति का नियम है और जो बात में कह रहा हूं, अगर ना भी कहूं तो भी सब पर लागू होती है। कोई किसी का गला पकड़ेगा तो सामने वाला भी गला पकड़ेगा। कोई धक्का देगा तो स्वाभाविक है कि सामने वाला भी धक्का देगा। अगर कोई किसी को गोली मारेगा तो सामने वाला गोली से बचने का प्रयास करेगा और पिस्तौल छीनने का भी प्रयास करेगा।

गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री हमारे मुखिया हैं और मैंने उनके संज्ञान में यह बात ला दी है। अब वह क्या निर्णय लेंगे। क्या करना है उनकी मर्जी है। यह जरूरी नहीं कि वह अपने निर्णय को मुझे बताएं या मैं उनसे उनके निर्णय के बारे में पूछूं। बता दें, कि हिसार के रेस्ट हाउस में सोमवार को कुछ किसान एक बैठक कर रहे थे कि इस दौरान बीजेपी के विधायक कमल गुप्ता वहां पहुंच गए। जिससे एकाएक किसानों की नाराजगी बढ़ गई और उन्होंने रेस्ट हाउस का दरवाजा बंद कर दिया और विधायक से बदसलूकी करते हुए हाथापाई की गई। जिसमें विधायक कमल गुप्ता के  कपड़े फट गए। जिसके बाद बीच बचाव करते हुए स्थानीय प्रशासन ने विधायक को मौके से निकाला और घर तक पहुंचाया।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।) 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static