रात में पराली जला रहे थे किसान, फौरन पहुंचे कृषि अधिकारियों ने लिया एक्शन

11/8/2019 6:17:52 PM

गोहाना (सुनील जिंदल): सरकार के हर संभव प्रयास के बावजूद हरियाणा में किसानों द्वारा धान की पराली जलाने के मामले रुकने का नाम नहीं ले रहे हैं। गोहाना के आस पास के गांव में इन दिनों धान की कटाई का काम जोरों पर है, लेकिन धान की कटाई के बाद किसान रात के समय खेतों में बचे धान के अवशेष (पराली) को जला रहे हैं। गोहाना में एक ही दिन में दो और पराली जलाने के मामले सामने आये हैं।

वहीं पराली जलाने की सूचना मिलते ही कृषि विभाग के अधिकारियों ने फौरन खेतों में पहुंच कर पराली जलाने वाले किसानों पर कई धाराओं के तहत नोटिस जारी किया, साथ ही दोनों किसानों से 2500-2500 रुपए का जुर्माना वसूला। कृषि विभाग के अधिकारी एसडीओ राजेंद्र मेहरा ने बताया कि गोहाना में पराली जलाने के अभी तक तीन ही मामले सामने आए हैं, जो पिछले साल की अपेक्षा बहुत ही कम है।

PunjabKesari, Haryana

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद खेतों में जलाई जा रही पराली को लेकर अब हरियाणा सरकार और भी गंभीर हो गई है, लेकिन किसान भी पराली जलाने से किनारा नहीं कर रहे है बहुत से किसान चोरी छुपे रात के समय अपने खेतों में पराली में आग लगा रहे हैं, जिसे देखते हुए हरियाणा सरकार और अभी सतर्क नजर आ रही है।


Shivam

Related News