किसान काले झंडे लिए कर रहे थे इंतजार, दिग्विजय चौटाला ने बीच में छोड़ दिया दौरा

punjabkesari.in Friday, Sep 25, 2020 - 12:10 AM (IST)

डबवाली (संदीप कुमार): कृषि विधेयकों के विरोध में हरियाणा में किसानों का आक्रोश लगातार बढ़ता जा रहा है। पूरे प्रदेश में किसान धरने-प्रदर्शन कर भाजपा सरकार से इन अध्यादेशों को वापिस लेने की जोरदार मांग कर रहे हैं। इसी कड़ी में डबवाली के गांव देसूजोधा में गुरूवार को सैंकड़ों किसान हाथों में काले झंडे लेकर जननायक जनता पार्टी के नेता दिग्विजय चौटाला के इंतजार में धरने पर बैठे रहे। धरनारत किसानों ने दिन भर दुष्यंष्त चौटाला मुर्दाबाद, जननायक जनता पार्टी मुर्दाबाद, नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद, भाजपा मुर्दाबाद, किसान विरोधी खट्टïर सरकार मुर्दाबाद जैसे नारे लगाते रहे।

धरनारत किसानों ने कहा कि आज गांव देसूजोधा में जननायक जनता पार्टी के नेता दिग्विजय चौटाला का कार्यक्रम था। सभी किसानों ने फैसला किया कि दिग्विजय चौटाला अगर गांव में कार्यक्रम करने आते हैं तो उन्हें काले झंडे दिखाए जाएंगे। किसानों ने कहा कि दिग्विजय चौटाला अगर गांव में आते हैं तो उन्हें गांव में नहीं घुसने दिया जाएगा। 

PunjabKesari, Haryana

किसानों ने कहा कि दिग्विजय चौटाला किसानों का सामना नहीं कर पा रहे हैं। इस डर की वजह से वे गांव देसूजोधा नहीं आए। उन्होंने गांव में आने का पहले से तय किया गया अपना कार्यक्रम रद्द कर दिया।  किसानों ने कहा कि अगर दिग्विजय चौटाला किसानों का जरा भी दर्द समझते हैं तो उन्हें किसानों के साथ आंदोलन में शामिल होना चाहिए। किसानों ने कहा कि दुष्यंत चौटाला भी तुरंत भाजपा सरकार से समर्थन वापिस लेकर किसानों के आंदोलन में शामिल हों। 

धरनारत किसानों ने ऐलान करते हुए कहा कि कृषि अध्यादेशों के विरोध में जेजेपी नेता दिग्विजय चौटाला के अलावा किसी अन्य नेता को भी गांव में किसान नहीं घुसने देंगे। दिग्विजय चौटाला का गांव देसूजोधा में दोपहर 3 बजे पहुंचने का कार्यक्रम था। लेकिन किसान शाम 7 बजे के बाद भी दिग्विजय चौटाला का गांव देसूजोधा में आने का इंतजार करते रहे। इसके अलावा दिग्विजय चौटाला ने गांव अबूबशहर, मुन्नावाली, रत्ताखेड़ा आदि गांवों में कार्यक्रम किए और पार्टी कार्यकत्र्ताओं से मुलाकात की।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Shivam

Related News

Recommended News

static