हरियाणा: कृषि अध्यादेश के विरोध में सड़कों पर उतरे अन्नदाता, हाइवे किए जाम

punjabkesari.in Sunday, Sep 20, 2020 - 02:11 PM (IST)

चंडीगढ़(ब्यूरो): किसानों पर किए गए लाठीचार्ज एवं झूठे मुकदमों और कृषि अध्यादेश के विरोध में  किसान सड़को पर उतर आए है। तमाम संगठन भी किसानों का समर्थन कर रहे हैं।  इसी से संबंधित किसानों ने हरियाणा भर में प्रर्दशन शुरू कर दिए है। 

चरखी दादरी 
चरखी दादरी में किसानों का धरना शुरू शांतिपूर्ण ढंग से प्रदर्शन किया जा रहा, वहीं पुलिस प्रशासन की ओर से भी धरने को देखते हुए पुख्ता प्रबंध किए गए हैं  डीएसपी जोगिंदर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि किसानों के प्रदर्शन को लेकर चार ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाए गए हैं वह किसी भी आपदा से निपटने के लिए पुलिस प्रशासन सतर्क है।

जुलाना
जुलाना की नई अनाज मंडी में केंद्र सरकार द्वारा लाए गए 3 अध्याय देशों के खिलाफ किसानों और आढ़तियों द्वारा धरना शुरू कर दिया गया है। किसानों और आढ़तियों का कहना है कि वे आज 12:00 बजे तक रोष स्वरूप धरना देंगे जिसके बाद जींद रोहतक नेशनल हाईवे नंबर 352 को जाम करने का काम करेंगे। अगर केंद्र व प्रदेश सरकार लाए गए अध्यादेश को वापस नहीं लेती है तो कोई भी बड़ा आंदोलन शुरू कर देंगे सरकार की जिम्मेदारी होगी।
PunjabKesari
सोनीपत
तीन अध्यादेशों के विरोध में लगातार किसान विरोध प्रदर्शन करते आ रहे है। किसानो के समर्थन देते हुए अनाज मंडी के आढ़ती भी 18 सितम्बर से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर है गोहाना में आढ़तियों ने गोहाना की अनाज मंडी के गेट पर अनिश्चित कालीन धरना सुरु करते हुए कहा सरकार जब तक तीन अध्यादेशों को वापस नहीं लेती उनका धरना जारी रहेगा मंडी में तब तक कोई काम नहीं होगा।
PunjabKesari
टोहाना
केंद्र सरकार द्वारा लागू किए जा रहे थे तीन अध्यदेशो के खिलाफ गांव कन्हडी व समैंन के किसानों ने नेशनल हाईवे 148बी को जाम कर दिया तथा सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। यह नेशनल हाईवे हिसार को चंडीगढ़ से जोड़ता है जिसके चलते वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई। इस दौरान किसानों ने सरकार पर जबरन तीन अध्यादेश थोपने का आरोप लगाया तथा कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नही होती किसानों का प्रदर्शन जारी रहेगा। वहीं प्रशासन ने हिसार रोड पर चलने वाली सभी रोडवेज बसों को बंद कर दिया तथा निजी वाहनों का रूट बदलकर उन्हें अन्य गांव के रास्ते अपने गंतव्य भेज दिया गया।
PunjabKesari
जींद
केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए 3 कृषि अध्यादेश के विरोध में किसानो एवं आढ़तियों ने जुलाना की नयी अनाज मंडी के पास नेशनल हाईवे न. 352 जींद रोहतक रोड पर जाम लगा दिया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की  जिला आढ़ती असोसिएशन के प्रधान राजपाल ने बताया की  केंद्र सरकार द्वारा लागु किये गए 3 कृषि अध्यादेश के विरोध में किसानो एवं आढ़तियों ने  नेशनल हाईवे न. 352 जींद रोहतक रोड पर जाम किया है और अपना रोष प्रदर्शन करते हुए सरकार से अध्यादेश वापिस लिए जाने की मांग की है उन्होंने यह भी कहा की सरकार ने पीपली में किसानो पर हुए लाठीचार्ज करके किसानो के साथ अन्यान्य किया है  जिसके चलते आढ़तियों एवं किसानो में भारी रोष है  सरकार या तो  अध्यादेश वापिस ले नहीं तो 25 सितम्बर को भारत बंद के आव्हान के चलते पुरे भारत को बंद कर दिया जायेगा और सील कर दिया जायेगा। 
PunjabKesari

पलवल
केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए किसान अध्यादेशों के विरोध में आज पलवल के ताऊ देवीलाल पार्क में किसानों ने धरना प्रदर्शन किया। किसान संगठनों ने अध्यादेशों को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अगर सरकार ने तीनों अध्यादेशों को वापिस नहीं लिया जो सभी किसान संगठन और उनके घटक दल एकजुट होकर सरकार के खिलाफ लामबंद हो जाएगें। भारतीय किसान यूनियन के पलवल जिला अध्यक्ष ऋषिपाल चौहान ने कहा कि सरकार द्वारा पारित किए गए तीनों अध्यादेश किसानों के हित में नहीं है। सरकार से मांग है कि तीनों अध्यादेशों को वापिस लें। उन्होंनें किसानों पर लाठीचार्ज की निंदा करते हुए कहा कि सरकार तुरंत प्रभाव से किसानों पर दर्ज किए गए मुकद्दमों को वापिस लें। उन्होंने कहा कि किसान अध्यादेशों के विरोध में किसानों का यह आंदोलन जारी रहेगा।

कुरुक्षेत्र 
कुरुक्षेत्र जिले में मुख्य तौर पर शाहबाद शाह मार्ग को किसानों द्वारा जाम किया गया है यहां 12 बजते ही सैकड़ों किसान पहुंच गये।  भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रवक्ता राकेश बैंक के नेतृत्व में रोड जाम किया गया है। इसके अलावा जिले में किरमिच रोड पर दो स्थानों पर मार्ग जाम है। कैथल रोड पर गांव कमोदा के नजदीक मार्ग जाम है। वही पिहोवा में भी मार्गो को जाम किया गया है।

नूंह मेवात
नूंह जिला मुख्यालय पर भारतीय किसान यूनियन के नेता आजाद की अगुवाई में नेशनल हाईवे नंबर 248 ए पर जिले के किसानों ने प्रदर्शन कर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।  भारतीय जनता पार्टी द्वारा कृषि अध्यादेश के खिलाफ मेवात जिले के किसान इकट्ठे हुए जिसके बाद उन्होंने नेशनल हाईवे नंबर 248 ए की तरफ रुख किया। 
PunjabKesari
अंबाला
अंबाला में किसानों ने ट्रालियां लेकर अंबाला नारायणगढ़ राष्ट्रीय राज मार्ग अवरुद्ध कर दिया।  किसानों ने हजारों की संख्या में वहां इकठे हो कर मोदी सरकार के खिलाफ जम कर नारेबाजी की।  किसानों के इस जाम के कारण आने जाने वालों को खासी परेशानी हुई।  किसानों के इस प्रदर्शन में कई राजनैतिक पार्टियों ने भी उनका समर्थन किया।  
PunjabKesari
सिरसा
मोदी सरकार के तीन अध्यादेशों के खिलाफ आज सिरसा में किसानों में नाराजगी देखने को मिली है। आज गांव पंजुआना में किसानों ने रोड जाम लगा दिया और दोनों ओर सड़कों को पूरी तरह से जाम कर दिया हालांकि पुलिस प्रशासन ने वाहन चालकों को गांवों से जाने के निर्देश दिए है । किसानों का कहना है कि मोदी सरकार के इन तीनों अध्यादेशों से किसान , आढ़ती मजदूर सभी बर्बाद हो जाएंगे । किसानों ने सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर सरकार ने इन तीनों अध्यदेशों को वापस नही लिया तो आने वाले दिनों में सरकार को किसानों के उग्र आंदोलन का सामना करना पड़ेगा।

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static