फ्रॉड: खुद को एच.ए.यू. भर्ती बोर्ड का एच.ओ.डी. बता 7.50 लाख रुपए ठगे

punjabkesari.in Saturday, Jan 11, 2020 - 12:48 PM (IST)

हिसार (ब्यूरो): सैक्टर-9/11 थाना पुलिस ने हिसार निवासी प्रदीप बूरा की शिकायत पर गांव मुजादपुर के कर्मबीर के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में ख्यानत करने का केस दर्ज किया है। आरोप है कि कर्मबीर ने खुद का नाम परमजीत बताया। 

उसने खुद को एच.ए.यू. का भर्ती बोर्ड का एच.ओ.डी. और पिता जल्द प्रमोट होकर हिसार का डी.सी. लगने का झांसा देकर 7.50 लाख रुपए ठग लिए। एक साल पहले उसकी मुलाकात मुजादपुर के कर्मबीर के साथ हुई थी। उसने खुद का नाम परमजीत बताया था। उसने कहा था कि वह एच.ए.यू. में भर्ती बोर्ड का एच.ओ.डी. है। उसका पिता जय सिंह आई.ए.एस. है और वह शिक्षा विभाग पंचकूला में तैनात है। वह जल्द प्रमोशन पाकर हिसार के डी.सी. लगने वाले हैं। 

कर्मबीर ने 10 नवम्बर 2019 को फोन कर कहा कि लुवास में एनिमल अटैंडैंट की पोस्ट निकली है। किसी परिचित ने फार्म भर रखा हो तो बता देना। एक लाख रुपए लेकर उसे नौकरी लगवा देंगे। वह एक रिश्तेदार को नौकरी लगवाने के नाम पर सैक्टर-9/11 मोड़ पर आकर उससे एक लाख रुपए ले गया था।

उसने फिर 10 दिन बाद फोन करके कहा कि आई.ए.एस. कोटे में एच.टैट. परीक्षा पास करवानी हो तो बता देना। प्रत्येक कैंडीडेट के एक-एक लाख रुपए लगेंगे। प्रदीप ने कहा कि उसने रिश्तेदारों से बातचीत करके उसे 8 लाख रुपए दे दिए थे। मुझे बाद में पता चला कि उसका असली नाम कर्मबीर है और वह चाचा जय सिंह को पिता बताकर लोगों को ठगने का काम करता है। उसने केवल डेढ़ लाख रुपए लौटाए। सैक्टर-9/11 थाना पुलिस ने शिकायत के आधार पर नामजद के खिलाफ केस दर्ज किया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Isha

Related News

Recommended News

static