गोल्ड मेडलिस्ट प्रियंका प्रजापति नेशनल स्टार आईकॉन अवॉर्ड से सम्मानित

10/15/2020 8:40:19 PM

चरखी दादरी (नरेन्द्र): बेटियां बेटों से कहीं भी कम नहीं होतीं.... इन वक्तव्यों को सार्थक कर रही हैं, जिला भिवानी के गांव बडेसरा में जन्मी निर्मल उर्फ प्रियंका प्रजापति, जो आज छोटी सी उम्र में हौसले के पंख लगाए कामयाबी की बुलंदियों को छूने के लिए लम्बी उड़ाने भर रही हैं। दो साल की उम्र से ही अपने ननिहाल में पल बढ़ रही प्रियंका प्रजापति बाल्यकाल से ही कुछ करने की ललक रखती थीं। खेलकूद व पढ़ाई में आगे बढ़ते देख परिवार वालों का जब खूब सहयोग मिला तो प्रियंका ने कबड्डी में अपना हुनर दिखाते हुए राष्ट्रीय स्तर पर गोल्ड मेडल जीतकर अपने अपने गांव बडेसरा, चरखीदादरी सहित पूरे प्रदेश का नाम रोशन किया। 

अपने करियर के साथ-साथ समाजसेवा में हमेशा अग्रणीय रहने वाली निर्मल उर्फ प्रियंका प्रजापति को एंटी क्रप्शन फाऊंडेशन ऑफ इण्डिया द्वारा करनाल में आयोजित राष्ट्रीय स्तरीय कार्यक्रम में नेशनल स्टार आईकॉन अवॉर्ड से नवाजा गया। इस उपलब्धि पर उन्होंने अपने गांव बडेसरा के उन सभी लोगों का धन्यवाद किया जो हर पल उनके साथ खड़े रहे। इस उपलब्धि को उन्होंने अपने कर्मक्षेत्र चरखीदादरी को समर्पित किया। 

PunjabKesari, Haryana

बीपीएचओ (भारतीय प्रजापति हीरोज ऑर्गेनाईजेनश) की महिला जिलाध्यक्ष निर्मल उर्फ प्रियंका प्रजापति अपने संगठन के साथ क्षेेत्र में समाजसेवा मंच पर विभिन्न सराहनीय कार्य करती रहती हैं। उनका लक्ष्य बेेटियों को समाज में बढ़ावा देेना रहता है। 

प्रियंका ने बातचीत के दौरान कहा कि वह चाहती है कि गांव बडेसरा व चरखीदादरी के लोगों ने जिस प्रकार मुझे सपोर्ट किया, मुझे आगे बढऩे का मौका दिया। इसी प्रकार हर मां-बाप अपनी बच्चियों पर भरोसा करते हुए उन्हें घर से बाहर निकलने का मौका दें। उन्हें आगे बढने के लिए प्रेरित करें। 

प्रियंका ने बताया कि कोरोना काल में जनसेवा कर सामाजिक सहयोगों को ध्यान में रखते हुए एंटी क्रप्शन फाऊंडेशन ऑफ इण्डिया द्वारा मुझे राष्ट्रीय स्तरीय कार्यक्रम में नेशनल स्टार आईकॉन अवॉर्ड प्रदान किया। जिसके लिए मैं सभी का धन्यवाद करती हूं। उन्होंने बताया कि महिला सशक्तिकरण व बेटियों के भविष्य उत्थान के लिए उनके द्वारा दुर्गा वाहिनी संगठन का भी संचालन किया जा रहा है। 


Shivam

Related News