PM मोदी के बयान पर बोले चढूनी- बातचीत करनी है तो किसानों को बुला लें

punjabkesari.in Monday, Feb 08, 2021 - 12:51 PM (IST)

सिरसा (सतनाम): किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान जिसमें उन्होंने कहा था की किसान अगर सरकार के प्रस्ताव को मानते है तो वह एक कॉल करे पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि इतने दिन पहले प्रधानमंत्री ने बयान दिया था, किसान दिल्ली में बैठे हैं, अगर बातचीत करनी है तो किसानों को बुला लें। उन्होंने कहा कि 11 दौर की बातचीत हो चुकी है, सरकार ने कोई हल नहीं निकाला। 

चढूनी ने कहा की किसान इतने दिनों से धरने पर बैठे हैं, अब तो ऐसे हालात हो गए है न तो किसान मान रहे हैं न ही मोदी मान रहे है। हम तो कहते हैं कि कानून जब तक वापस नहीं होते तब तक हम नहीं मानेंगे। उन्होंने कहा कि 200 से ज्यादा किसानों की मौत हो गई है। सरकार हठधर्मी पर अड़ी हुई है। 

इसके साथ ही कृषि मंत्री के राज्य सभा में दिए बयान कि इन कानूनों में काला क्या है पर चढूनी ने कहा कि कानून काले मन से ही बनाए गए हैं। वहीं राकेश टिकैत के सरकार को अक्टूबर तक अल्टीमेटम देने के बयान पर चढूनी ने कहा की उन्होंने ऐसे मजाक में कह दिया होगा। सरकार अगर 2024 तक हमारी मांगे नहीं मानती तब तक हम धरने पर बैठे रहेंगे। 

चढूनी ने कहा की सरकार अपने गुंडों से हमला करवा रही है। उन्होंने कहा की किसानों को संगठित करने के लिए मैं अन्य प्रदेशों में भी जा रहा हूं। आज मैं राजस्थान के दौरे पर हूं, जहां किसानों से चर्चा करूंगा। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

vinod kumar

Related News

Recommended News

static