IIHMR यूनिवर्सिटी जयपुर में 11 PHD 267 MBA डिग्री धारकों को दी डिग्रियां

punjabkesari.in Saturday, Aug 06, 2022 - 04:31 PM (IST)

चंडीगढ़( चन्द्रशेखर धरणी): आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी जयपुर में एमबीए तथा पीएसबी के छात्र छात्राओं का दीक्षांत समारोह जयपुर आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के अंदर संपन्न हुआ। आईआईएचएमआर यूनिवर्सिटी के  ट्रस्टी सैक्ट्री व पूर्व चैयरमैन डॉ एस डी गुप्ता कहां की घर बैठे ऑनलाइन एजुकेशन लेकर डिग्री लेने का इस बैच में शामिल विद्यार्थियों का तथा विश्वविद्यालय का एक नया अनुभव रहा है उन्होंने कहा कि कोविड-19 कार्यकाल के चलते जहां विद्यार्थियों को घर बैठे शिक्षा मुहैया करवाने के लिए यूनिवर्सिटी के सभी प्रदर्शन तथा स्टाफ ने हाईटेक विधियों को अपनाया वही बच्चों ने भी लैपटॉप या मोबाइल का इस्तेमाल करके घर बैठे बेहतरीन तरीके से शिक्षा की एक नई परंपरा को सफलता से निभाया। डॉ गुप्ता ने कहा कि निसंदेह कोविड-19 के कड़वे अनुभवों के चलते शिक्षा बच्चों को कैसे मुहैया करवाई जाए सबसे बड़ी चुनौती बन गई थी।

  इस कार्यक्रम के अंदर हिंदुजा अस्पताल के सीईओ व मेडिकल रिसर्च सेंटर के गौतम खन्ना, राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ सर्विसेज के वाइस चांसलर डॉक्टर सुधीर भंडारी, आईआईएचएमआर के चेयरपर्सन सुदर्शन जैन, आईआईएचएमआर के प्रेसिडेंट डॉक्टर बीआर सोडाणी जैसी होती है इस कार्यक्रम में मौजूद रहे। इस अवसर पर यूनिवर्सिटी द्वारा 11 पीएचडी 267 डिग्री धारकों को दीक्षांत समारोह में डिग्रियां प्रदान की गई। डॉ गुप्ता ने कहा कि कोविड-19 के आपदा के दौरान ऑनलाइन एजुकेशन लेने वाले तथा आज डिग्री प्राप्त करने वाले सभी विद्यार्थी अपने मोबाइल नंबर तथा मेल आईडी 5 वर्ष तक बिल्कुल ना बदले क्योंकि संस्थान भी इन चीजों पर अध्ययन करेगा की ऑनलाइन एजुकेशन के माध्यम से डिग्री लेने वाले विद्यार्थियों की वर्तमान कार्य प्रणाली का सक्सेस रेट क्या है। डॉ गुप्ता ने कहा की प्रशासनिक स्तर पर विश्वविद्यालय के प्रबंधकों व प्राध्यापकों के लिए भी कोविड-19 एक बहुत बड़ा चुनौती का कार्यकाल था क्योंकि अतीत में बच्चों को ऑनलाइन एजुकेशन नहीं दी गई। यूनिवर्सिटी के अंदर बच्चों को शिक्षा देने के लिए कॉमेडी कार्यकाल में स्टूडियो बनवाए गए।

डॉक्टर एच डी गुप्ता ने कहा कि क्यों विद्यार्थी डिग्री ले रहे हैं वह आगामी 30 वर्षों तक हेल्थ केयर सर्विसेज में नायक है। उन्होंने कहा सभी को काम में विश्वास बनाना अपने काम को गंभीरता से करना और अच्छी स्ट्रैंथ के साथ अपनी कार्यप्रणाली को साबित करना अनिवार्य है उन्होंने सलाह दी कि एडवांस्ड टेक्नोलॉजी से सभी दोस्ती करें। फिट एंड फाइन खुद को भी रखें तथा लाइफ़स्टाइल डिजीज से खुद को जहां दूर रखना है वही समाज को भी जागृत करना है। आईआईएचएमआर के प्रेसिडेंट डॉक्टर पी एस सोडानी ने बताया कि भारतवर्ष के अंदर आयुष्मान के माध्यम से 1200 कम्युनिटी हेल्थ सर्विसेज ऑफिसर की नियुक्ति के लिए प्रशिक्षण ऑनलाइन देने का काम भी आईआईएचएमआर कर रहा है।

उन्होंने कहा कि हेल्थ सर्विसेज के अंदर उच्च शिक्षा संस्थानों में आईआईएचएमआर का बहुत बड़ा नाम इसलिए है क्योंकि यहां के सभी प्रोफेसर व प्राध्यापक विपरीत परिस्थितियों में भी कड़ी मेहनत करके सार्थक परिणाम देते हैं। उन्होंने कहा कि आज विश्व भर सेक्स स्टूडेंट यूनिवर्सिटी में प्रवेश ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में हुई ग्लोबल कॉन्फ्रेंस जो 3 दिन की हुई तथा जिसमें 25 देशों के 30 वक्ता शामिल हुए उसके अंदर आईआईएचएमआर की विशेष रूप से मौजूद की रही। उन्होंने कहा कि फार्मास्यूटिकल इंडस्ट्री को भी आईआईएचएमआर में आमंत्रण दिया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Isha

Related News

Recommended News

static