येलो अलर्ट के बाद सिंचाई विभाग भी हुआ सक्रिय, अधिकारियों व कर्मचारियों की विभिन्न इलाकों में लगाई ड्यूटी

punjabkesari.in Monday, Jul 04, 2022 - 03:59 PM (IST)

यमुनानगर (सुरेंद्र मेहता) : मौसम विभाग ने 6 व 7 जुलाई को हरियाणा व उत्तराखंड में येलो अलर्ट जारी किया है। जिसके बाद हरियाणा सिंचाई विभाग भी सक्रिय हुआ है। विभाग के सभी अधिकारियों व कर्मचारियों की विभिन्न इलाकों में ड्यूटी लगाई गई हैं।

यमुनानगर में जहां हथिनी कुंड बैराज है यही से देश के पांच राज्यों को पानी सप्लाई होता है। लेकिन यमुना का बहाव ज्यादा होने के कारण यही पानी मानसून के दिनों में दिक्कत पैदा करता है। इस बार भी इन दिनों यमुना में अधिक पानी आ सकता है। जबकि यमुनानगर में ही सोम नदी, पथराला नदी व नगली नाला है। यह भी यमुनानगर जिला के कई इलाकों को प्रभावित करते हैं। 

सिंचाई विभाग हरियाणा के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर आर एस मित्तल का कहना है कि 6 व 7 जुलाई का येलो अलर्ट मिलने के बाद सभी अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी गई हैं। इस दौरान कहीं भी जलभराव अथवा किसी अन्य संकट के लिए 24 घंटे कर्मचारी, अधिकारी तैनात रहेंगे। उन्होंने कहा कि 2 व 3 जुलाई को भी पहाड़ों पर वर्षा के चलते सोम नदी में 17000 क्यूसेक पानी आ गया था व पथराला नदी में 5000 क्यूसेक पानी आ चुका था लेकिन इस दौरान पानी निकल गया और कोई ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। उन्होंने बताया कि हथिनी कुंड बैराज पर भी 3 जुलाई को 36001क्यूसेक पानी आया था जिसमें से 17500 क्यूसेक पानी यमुना में छोड़ा गया। मित्तल ने बताया कि 6-7 जुलाई को पानी बहुत अधिक आ सकता है इसलिए यमुना नदी, सोम नदी, पथराला नदी के आसपास रहने वाले लोगों से अपील है कि वह इन दो दिनों में नदियों के आसपास ना जाएं। क्योंकि पानी बहुत तेजी से आता है जिस वजह से कोई भी जानमाल का नुकसान हो सकता है। इसलिए इन नदियों के आसपास ना जाए। 

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भी, बस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Manisha rana

Related News

Recommended News

static