विकास योजनाओं के लिए ई-भूमि पोर्टल से जमीन ली जाए- मुख्यमंत्री

punjabkesari.in Monday, Jun 27, 2022 - 09:43 PM (IST)

चंडीगढ़(धरणी): हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि विकास परियोजनाओं को अमलीजामा पहनाने के लिए जिन क्षेत्रों में जमीन की आवश्यकता है. उसे ई-भूमि पोर्टल के माध्यम से ही लिया जाए। इससे योजनाओं को जल्द पूरा कर जनता को लाभ दिया जा सकेगा। इसके अलावा योजनाओं के लिए पत्राचार करने के साथ अधिकारी व्यक्तिगत स्तर पर मौके का मुआयना करके तुरंत प्रभाव से सरकार को रिपोर्ट सौंपे ताकि योजनाओं का जल्द क्रियान्वयन सुनिश्चित हो सके।

सीएम मनोहर लाल ने सोमवार को चंडीगढ़ में  विभिन्न जिलों में की गई अपनी घोषणाओं के क्रियान्वयन को लेकर आयोजित बैठक की अध्यक्षता की। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलों में विभिन्न दौरों के दौरान अब तक 9128 घोषणाएं की गई हैं, जिनमें से 5947 पूरी की जा चुकी हैं । इसके अलावा 1445 घोषणाओं पर कार्य प्रगति पर है और 1359 घोषणाएं लंबित हैं, जिन पर जल्द से जल्द कार्य शुरू किया जाए। उन्होंने कहा कि पानीपत में भारतीय हीरोज और योद्धया स्मारक स्थल के विस्तार तथा कुरूक्षेत्र में बनाए जाने वाले सिख म्यूजिम के लिए संबंधित अधिकारी दौरा करके दो दिन में रिपोर्ट सौपेंगे।  मुख्यमंत्री ने कहा कि रोड़ के साथ लगते दायरे में आने वाली दुकानों को नियमित करने के लिए सर्वे करवाकर नीति तैयार की जाए। मुख्यमंत्री कुरूक्षेत्र में शाहबाद रोड़ और बरवाला रोड़ की दुकानों के लिए की गई घोषणाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के रिहायशी क्षेत्र में हॉस्पिटल आदि सार्वजनिक स्थलों के आसपास स्थित गेस्ट हाऊस व पीजी को फायर सेफ्टी नियम अपनाने पर नियमित किया जाए। प्राधिकरण के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि रिहायशी क्षेत्र के आसपास ही गेस्ट हाऊस बनाने की अनुमति प्रदान की जाती है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले माह के दौरान हर विधानसभा के अनुसार संबंधित विधायकों के साथ घोषणाओं की विस्तार से समीक्षा की जाएगी। इसके अलावा सभी विभागाध्यक्ष भी घोषणाओं की नियमित मोनिटरिंग करें ताकि इन्हें जल्द पूरा किया जा सके। उन्होंने कहा कि खेल स्टेडियम बनाने के लिए प्रदेश भर में मैपिंग का कार्य किया जा रहा है। इसलिए स्टेडियम आदि का कार्य खेल विभाग के माध्यम से ही करवाए जाए। उन्होंने कहा कि सांईस सिटी गुरूग्राम के लिए 50 एकड़ भूमि की आवश्यकता है। इसके लिए भूमि का चयन करने के लिए मुख्य सचिव संजीव कौशल की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के जिन सब डिविजनों में मिनी सचिवालय नहीं हैं, उनमें सचिवालय भवन बनाए जाएगें। इसके लिए भूमि प्रक्रिया एवं अन्य औपचारिकताएं पूरी की जाएं। सोनीपत के उपमंडल खरखौदा में प्रशासनिक अधिकारियों के मकान बनाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने सफीदों स्टेडियम का नाम तुरंत प्रभाव डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम पर रखने और चरखी दादरी में जिला जेल का निर्माण करने के लिए भूमि का जल्द चयन करने के निर्देश दिए। 

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि जाटूसाना में फ्लोर मिल का निर्माण कार्य अप्रैल 2023 में पूरा कर लिया जाएगा तथा डबवाली में मिल्क चिलिंग सेंटर व कालका में मिनी मिल्क प्लांट भी शीघ्र ही स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि खेल विभाग के निदेशक को लोहगढ में मार्शल आर्ट स्कूल खोलने के लिए सभी औपचारिकताएं पूरी करने को कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि जुलाना, पिल्लुखेड़ा, सफीदो आदि क्षेत्रों में लगभग 174 एकड़ क्षेत्र में मछली पालन का कार्य शुरू किया गया है। इस क्षेत्र को और बढ़ाया जाए ताकि अधिक से अधिक युवाओं के लिए रोजगार के अवसर उपलब्ध हो सके। मुख्यमंत्री ने बताया कि गुरुग्राम के सेक्टर 102 में हॉस्पिटल का निर्माण किया जा रहा है तथा सेक्टर 67 में भी  हॉस्पिटल बनाया जाएगा। इसके अलावा भिवानी के प्रेम नगर में 323 लाख रुपए की लागत से पं. दीन दयाल उपाध्याय आयुर्वेदिक अस्पताल बनाने की अनुमति प्रदान की जा चुकी है।

(हरियाणा की खबरें टेलीग्राम पर भीबस यहां क्लिक करें या फिर टेलीग्राम पर Punjab Kesari Haryana सर्च करें।)


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vivek Rai

Related News

Recommended News

static